अमरीकी सैनिकों ने महिला सहकर्मियों की नंगी तस्वीरें पोस्ट की, जांच शुरू

इमेज कॉपीरइट AP

अमरीकी रक्षा विभाग उन रिपोर्टों की जांच कर रहा है, जिनमें कहा गया है कि इसकी नौसेना के लोगों ने अपनी ही महिला सहकर्मियों की नंगी-अधनंगी तस्वीरें साझा की थीं.

ये तस्वीरें फ़ेसबुक पर 'मरीन युनाइटेड' नाम से बने ग्रुप में पोस्ट की गई थीं. इन तस्वीरों के साथ बेहद अशिष्ट और आक्रामक टिप्पणियों भी डाली गई थीं.

यह ग्रुप बंद किया जा चुका है. इस फ़ेसबुक ग्रुप से 30,000 काम कर रहे और रिटायर्ड सैनिक जुड़े हुए थे.

'26 हज़ार अमरीकी सैनिक यौन शोषण के शिकार'

नासा के पास क्यों हैं इतने फ़ाइटर विमान?

नौसेना के वरिष्ठ अफ़सर सार्जेंट रोनल्ड ग्रीन ने कहा, "यह हमारे मूल्यों और विरासत पर सीधी चोट है."

जांच शुरू

इमेज कॉपीरइट AP

नौसेना आपराधिक जांच सेवा ने भी इस मामले की जांच शुरू कर दी है.

ग्रीन ने कहा, "इस व्यवहार से साथी नौसैनिक, उनके परिवार के लोग और नागरिकों की भावनाएं आहत होती हैं."

'द वॉर हॉर्स' नाम के समाचार संगठन ने इसका भंडाफोड़ किया.

मरीन युनाइटेड के सदस्य गूगल ड्राइव पर होस्ट किए हुए एक फोल्डर पर एक लिंक पोस्ट करते थे. इसमें महिला मरीन कर्मचारियों की नंगी तस्वीरें रहती थीं.

बग़ैर अनुमति शेयर की तस्वीरें

इमेज कॉपीरइट AP

इसके साथ ही उन महिलाओं के नाम, यूनिट और रैंक का भी ज़िक्र किया जाता था.

इतना ही नहीं, सदस्यों को इसके लिए उकसाया जाता था कि अधिक से अधिक महिलाओं की ऐसी तस्वीरें पोस्ट करें.

जिस समय अमरीकी नौसेना की इनफ़ैन्ट्री ने महिलाओं की भर्ती शुरू की, लगभग उसी समय से यह ग्रुप काम कर रहा था.

लान्स कॉरपोरल मरीसा वोयटेक ने वाशिंगटन पोस्ट अख़बार से कहा कि उनके इंस्टाग्राम से तस्वीरें ली गईं और उनकी अनुमति के बैगर ही शेयर की गईं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे