सीरिया: धमाकों में 40 इराक़ियों की मौत

दमिश्क इमेज कॉपीरइट AP

सीरिया की राजधानी दमिश्क में हुए दो बम धमाकों में 40 इराक़ियों की मौत हो गई है और क़रीब 120 लोग ज़ख़्मी हो गए हैं.

धमाके एक पुराने क़ब्रिस्तान बाब अल सगीर के पास हुए जहां शिया मुसलमानों के मक़बरे हैं.

ख़बरों के मुताबिक हमलावरों ने यात्रियों को वहां लाने वाली बसों को निशाना बनाया. सरकारी टेलीविजन के मुताबिक मरने वालों में से ज़्यादातर इराक़ के नागरिक हैं.

अभी तक किसी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है.

सुन्नी चरमपंथी शियाओं को निशाना बनाते रहे हैं, लेकिन राजधानी में हमले असामान्य हैं.

रूस, तुर्की और ईरान की मध्यस्थता में पिछले साल 30 दिसंबर कज़ाकिस्तान में हुई बातचीत के बाद राष्ट्रव्यापी शांति की स्थापना हुई थी, लेकिन हमले अभी भी जारी हैं.

दो चरणों की वार्ता हो चुकी है और एक बातचीत अगले हफ्ते होनी है.

गृह युद्ध का सामना कर रहे सीरिया की राजधानी दमिश्क का ज़्यादातर इलाका राष्ट्रपति बशर अल असद के नियंत्रण में है, लेकिन शहर के सीमावर्ती ज़िलों में विद्रोही समूह भी मौजूद हैं.

इराक़ी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अहमद जमाल ने शनिवार के हमलों को 'आपराधिक चरमपंथी अभियान' बताया है.

सीरिया के होम्स में हमले, 32 की मौत

मार्च 2011 में सीरिया में विद्रोह शुरू होने के बाद से अब तक तीन लाख से ज़्यादा लोग मारे गए हैं और लगभग सवा करोड़ लोग विस्थापित हुए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे