ब्रेक्सिट- ब्रिटेन के यूरोपीय संघ से अलग होने की प्रक्रिया 29 मार्च से

इमेज कॉपीरइट AFP

ब्रिटेन ने घोषणा की है कि उसके आधिकारिक रूप से यूरोपीय संघ से अलग होने की प्रक्रिया 29 मार्च से शुरु हो जाएगी.

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे के प्रवक्ता ने कहा कि अगले बुधवार को इस संबंध में संधि के अनुच्छेद 50 के तहत इसकी शुरुआत करेंगी.

ब्रिटेन का ईयू से तलाक़: 6 ताज़ा घटनाक्रम

ईयू और ब्रिक्सिट: क्या है कहानी

यूरोपीय संघ का विचार कितना पुराना?

प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा है कि वो यूरोपीय संघ के 27 सदस्य देशों को चिट्ठी लिखेंगी. इसके बाद ब्रिटेन के पास दो साल की बातचीत का समय होगा जिसमें वो ईयू से बाहर आने की शर्तों पर बात कर पाएगा.

ये क़दम जनमत संग्रह होने के नौ महीने बाद उठाया जा रहा है, जिसमें 51.9 प्रतिशत लोगों ने ब्रिटेन के यूरोपीय संघ से अलग होने के पक्ष में वोट किया था.

अनुच्छेद 50 के तहत जबतक ब्रिटेन आधिकारिक रूप से यूरोपीय संघ को अपने अलग होने के बारे में नहीं बताता, शर्तों और भविष्य के संबंधों पर बातचीत की इजाज़त नहीं होगी.

अगर सबकुछ ठीक रहता है तो आधिकारिक रूप से निर्धारित दो साल की बातचीत के बाद, मार्च 2019 तक ब्रेक्सिट हो जाना चाहिए.

इमेज कॉपीरइट PA

प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक बयान जारी करते हुए कहा है कि उम्मीद की जाती है कि आधिकारिक सूचना के बाद बाकी 27 सदस्य देश अपनी शर्तों पर सहमति देंगे और 48 घंटों में अपनी प्रतिक्रिया देंगे.

एक प्रवक्ता ने कहा कि सरकार चाहती है कि जल्द से जल्द बातचीत की प्रक्रिया शुरू हो, लेकिन सदस्य देशों को अपनी स्थिति तय करने के लिए समय भी मिलना चाहिए.

प्रधानमंत्री टेरीज़ा ने पिछले साल ही कहा था कि वो मार्च में ब्रेक्सिट की अधिसूचना जारी करना चाह रही हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे