लंदन हमले का मकसद शायद कभी पता ही न चले: पुलिस

इमेज कॉपीरइट AP

लंदन पुलिस ने कहा है कि ख़ालिद मसूद ने वेस्टमिंस्टर पुल पर हुए हमले को अकेले ही अंजाम दिया था. पुलिस के मुताबिक़ हमले का उद्देश्य शायद ही कभी पता चल पाए.

लंदन की मेट्रोपोलिटिन पुलिस के उप सहायक आयुक्त नील बासु ने कहा, ''हमें यह स्वीकार करना होगा कि यह संभव है कि यह पता ही न चले कि यह क्यों किया गया.''

कौन था लंदन का हमलावर खालिद मसूद

लंदन हमलावर का नाम ख़ालिद मसूद

22 मार्च की दोपहर लंदन में ख़ालिद मसूद ने संसद के पास टेम्स नदी पर बने पुल वेस्टमिंस्टर ब्रिज पर तेज़ी से कार दौड़ा दी थी. इस व्यक्ति ने संसद परिसर में एक पुलिस अधिकारी पर चाकू से भी हमला किया था.

इस हमले में चार लोगों की मौत हो गई और 50 अन्य घायल हो गए. पुलिस की कार्रवाई में ख़ालिद मसूद की मौत हो गई थी.

'और हमलों की सूचना नहीं'

बसु ने कहा, ''हम अब भी यह मानते हैं कि मसूद ने उस दिन अकेले ही हमला किया. इस बात की कोई सूचना नहीं है कि और हमलों की योजना बनाई गई.''

इमेज कॉपीरइट AP

उन्होंने कहा, ''अगर उसने अकेले ही हमले की तैयारी की तो भी हमें लंदनवासियों को समझाने के लिए पूरी स्पष्टता से यह स्थापित करना होगा कि उसने यह बुरी हरकत क्यों की थी.''

लंदन डरने वाला नहीं है: टेरीज़ा मे

लंदन में 'आतंकवादी घटना', पांच की मौत

इमेज कॉपीरइट AP

उन्होंने कहा, ''हालांकि, हम यह जानने के लिए दृढ़संकल्प है कि अगर मसूद अकेले था और आतंकियों के प्रोपागेंडा से प्रभावित था या फिर उसे अन्य लोगों ने उकसाया, समर्थन दिया या निर्देश दिया था.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे