पराग्वे में प्रदर्शनकारियों ने लगाई संसद में आग

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption पराग्वे में आग लगाते प्रदर्शनकारी

पराग्वे में राष्ट्रपति के दोबारा चुनाव लड़ने के एक बिल के ख़िलाफ़ हिंसक विरोध प्रदर्शन में प्रदर्शनकारियों ने देश की संसद में आग लगा दी.

मुख्य विपक्षी पार्टी के प्रमुख ने कहा कि एक कार्यकर्ता की गोली लगने से मौत हो गई है

प्रदर्शनकारियों ने संसद की इमारत की खिड़कियां और फ़ेंसिंग तोड़ दी.

पराग्वे में 35 साल के तानाशाही शासन के बाद 1992 में जारी संविधान में संशोधन किया गया था जिसके तहत किसी एक राष्ट्रपति का कार्यकाल सिर्फ़ एक बार ही पांच साल का रखा गया था.

लेकिन वर्तमान राष्ट्रपति होरासियो कार्टस संविधान में संशोधन कर इस नियम को बदलकर दोबारा राष्ट्रपति चुनाव लड़ना चाहते हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters

शुक्रवार रात को राष्ट्रपति के इस क़दम के ख़िलाफ़ प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों की संसद की खिड़कियां तोड़ते और अंदर आग लगाने की तस्वीरें सामने आईं.

एएफपी न्यूज़ एजेंसी के मुताबिक़ प्रदर्शनकारियों ने बिल का समर्थन करने वालों के दफ़्तरों को लूट लिया.

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption संसद के बाहर नारेबाज़ी करते प्रदर्शनकारी

स्थानीय मीडिया के अनुसार इस कार्रवाई में प्रदर्शनकारियों, नेताओं और अधिकारियों समेत कई लोग घायल हुए हैं.

राष्ट्रपति कार्टस ने ट्विटर पर बयान देते हुए लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है.

कार्टस ने कहा '' लोकतंत्र को हिंसा से हराया या बचाया नहीं जा सकता और आपको भरोसा देता हूं कि ये सरकार गणतंत्र को बनाए रखने के लिए बेहतर प्रयासों को जारी रखेगी. ''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)