कीनिया में पीने वाले अब पैमाने पर रहम नहीं करेंगे

  • 8 अप्रैल 2017
कीनिया इमेज कॉपीरइट AFP

पैमाने से ज़्यादा शराब पीने पर कीनिया में सड़क पर गाड़ी चलाते वक़्त होने वाली अचानक जांच को अदालत ने रोक दिया है.

एक बार मालिक इसे लेकर तीन सालों से क़ानूनी लड़ाई लड़ रहा था. उसका तर्क था कि इस नियम के कारण बार का व्यापार प्रभावित हो रहा है.

बार मालिक करिउकी रुइथा का तर्क था कि यह जांच कीनियाई लोगों के संवैधानिक अधिकारों का हनन है. उन्होंने कहा था कि कीनिया के लोग अपनी जीवन शैली चुनने को लेकर स्वतंत्र हैं और लोग कितनी शराब पीएंगे ये भी ख़ुद का ही फ़ैसला होना चाहिए.

कीनिया: पैसे की तंगी थी, एक डॉलर में रचाई शादी

'हर कोई इनका रेप करना चाहता है'

कीनिया दुनिया की सबसे ख़तरनाक सड़कों के लिए जाना जाता है. पिछले साल के पहले 6 महीने में यहां 1,574 लोग सड़क हादसों में मरे थे. हालांकि तीन जजों की इस बेंच ने कहा कि शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों पर ट्रैफिक नियमों के तहत अब भी जुर्माना लगाया जा सकता है.

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक रुइथा का राजधानी नैरोबी में एक बार है. उन्होंने पहली बार अदालत में यह केस तीन साल पहले दायर किया था. तब उन्होंने परिवहन मंत्री पर मुक़दमा दायर किया था. इस नियम के कारण उनका 80 फ़ीसदी बिज़नेस प्रभावित हुआ था. इस वजह से उन्होंने 44 कर्मचारियों की छंटनी कर दी थी.

इमेज कॉपीरइट PA

2014 में उनके वक़ील ने ड्राइव करते वक्त मुंह में मशीन लगा जांच करने वाले नियम को दमनकारी और अनुचित करार दिया था. इस तर्क का एक और बार मालिक ने समर्थन किया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे