भारी नुक़सान के बाद एयरलाइन ने मांगी माफ़ी

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
विमान से यात्री को घसीटकर उतारा

यूनाइटेड एयरलाइंस के सीईओ ने यात्री को घसीटकर विमान से निकाले जाने की घटना पर माफ़ी मांग ली है. अब उन्होंने घटना को 'वास्तव में भयानक' कहा है. घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद कंपनी के शेयरों में गिरावट दर्ज की गई है.

इससे पहले उन्होंने अपने कर्मचारियों का बचाव किया था. उनका कहना था कि यात्री को विमान से निकालने के लिए निर्धारित प्रक्रिया का पालन किया गया था.

यूनाइटेड एयरलाइंस की एक क्षमता से अधिक बुक की गई फ़्लाइट से एक यात्री को ज़बरदस्ती विमान से उतारने को लेकर तीखी आलोचना हो रही है.

कर्मचारियों को लिखे गए एक ईमेल में एयरलाइन के सीईओ ऑस्कर मुनोज़ ने कहा है कि वो घटना के बारे में देख और सुनकर दुखी हैं.

इमेज कॉपीरइट JAYSE D ANSPACH

उन्होंने अपने ईमेल में ये भी कहा था कि ज़बरदस्ती उतारा गया यात्री "परेशान करने वाला और आक्रामक" था.

घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर आने के बाद जारी किए गए बयान में एयरलाइन ने कहा था कि घटनाक्रम की गहन जांच की जा रही है.

किसी को भी विमान से उतारा जा सकता है, जानिए क्यों?

'एशियाई' को घसीटकर विमान से क्यों उतारा गया?

इमेज कॉपीरइट Reuters

वीडियो में एक यात्री को उसकी सीट से घसीटकर बाहर ले जाया जा रहा है. बाद में यात्री के चेहरे पर ख़ून भी दिखता है.

घटना के बाद एयरलाइन की मालिक कंपनी यूनाइटेड कांटीनेंटल होल्डिंग्स के शेयर तीन प्रतिशत तक गिर गए.

बाहर निकाले गए यात्री की पहचान अभी ज़ाहिर नहीं की गई है. उनके बगल की सीट पर बैठे यात्री ने बीबीसी रेडियो 5 लाइव को बताया है कि वो वियतनाम से हैं और बीस साल से केंटकी के लुइविले में रह रहे हैं.

सहयात्री के मुताबिक वो और उनकी पत्नी दोनों डॉक्टर हैं.

रविवार शाम शिकागो से लुइविले जा रही इस फ़्लाइट में क्षमता से अधिक टिकटें बुक कर ली गई थीं.

इमेज कॉपीरइट TYLER BRIDGES/TWITTER

एयरलाइन अपने चार कर्मचारियों के लिए जगह बनाने के लिए चार यात्रियों को विमान से उतारना चाहती थी.

घटनाक्रम पर दी गई प्रतिक्रिया को लेकर अब एयरलाइन के सीईओ ऑस्कर मुनोज़ की सोशल मीडिया पर तीखी आलोचना हो रही है.

मुनोज़ ने कर्मचारियों को भेजे गए ईमेल में एयरलाइन का बचाव किया है.

एसोसिएटेड प्रेस के मुताबिक मुनोज़ ने ईमेल में लिखा, "हमारे कर्मचारियों ने ऐसी स्थिति से निबटने के लिए तय की गई प्रक्रिया का पालन किया."

मुनोज़ ने लिखा कि यात्री ने स्वयं विमान से बाहर जाने से मना कर दिया था. ऐसी स्थिति में कर्मचारियों के पास शिकागो एविएशन सिक्योरिटी अधिकारियों की मदद लेने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा था.

सोशल मीडिया पर आलोचना

घटना की जांच के लिए व्हाइट हाउस को संबोधित एक ऑनलाइन याचिका पर अब तक 60 हज़ार से अधिक लोग हस्ताक्षर कर चुके हैं.

ट्विटर पर लोग यूनाइटेड एयरलाइंस की जमकर आलोचना कर रहे हैं.

जेन ने लिखा, "डॉक्टर की तरह सवार हो, मरीज़ की तरह बाहर निकलो''

इमेज कॉपीरइट TWITTER/@FANQIN0619
इमेज कॉपीरइट TWITTER/@PARVEEN_COMMS

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे