नेपाल में लापता पूर्व पाकिस्तानी फ़ौजी का सुराग नहीं

  • 12 अप्रैल 2017

नेपाल में अधिकारियों का कहना है कि उन्हें अब तक रिटायर्ड पाकिस्तानी सेना अधिकारी मोहम्मद हबीब के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है जो कथित तौर पर लुंबिनी से लापता हो गए थे.

अधिकारियों के मुताबिक उन्हें सीसीटीवी फुटेज मिला है जिसमें देखा जा सकता है कि लुंबिनी के पास भैरावा हवाईअड्डे पर मोहम्मद हबीब ज़हीर को एक अज्ञात व्यक्ति लेने आया है.

नेपल पुलिस के एसएसपी दीपक थापा ने बीबीसी नेपाली को बताया, "हम पुष्टि कर सकते हैं कि उन्होंने काठमांडू से भैरावा तक घरेलू फ़्लाइट में सफ़र किया. सीसीटीवी फुटेज में देखा जा सकता है कि कोई उन्हें लेना आया जिनकी पहचान की जा रही है."

ड्राइवरों से पूछताछ

इमेज कॉपीरइट IRA BLOCK NATIONAL GEOGRAPHIC

नेपाली पुलिस ने बताया कि सीसीटीवी से मिले फ़ुटेज के मुताबिक जब मोहम्मद हबीब ज़हीर निकल रहे थे तो उनके पास एक बैकपैक था और हाथ में एक बैग. वो एक अज्ञात व्यक्ति से बात कर रहे थे और फिर दोनों साथ निकल गए.

पुलिस ने कहा है कि फ़ोटो और वीडियो के आधार पर उन्होंने हवाईअड्डे पर टैक्सी ड्राइवरों और ट्रांसपोर्ट ऑपरेटरों से ज़हीर के बारे में पूछताछ की है.

इससे पहले काठमांडू में पाकिस्तानी दूतावास ने रविवार को नेपाल सरकार से मामले की जाँच करने का अनुरोध किया था.

नेपाल के विदेश मंत्रालय ने इसके बाद गृह मंत्रालय और पुलिस को जाँच करने का आदेश दिया.

सुराग नहीं मिला

नेपाल के गृह मंत्रालय के प्रवक्ता बालकृष्ण पंथी ने बताया है कि विशेष जाँच दल को अभी तक कोई सुराग नहीं मिला है.

उन्होंने कहा, "हमें नहीं पता को वो लुंबिनी क्यों गए और नेपाल आने का उनका क्या मकसद था."

गुरुवार को वो लापता हुए थे और उनके नाम से लुंबिनी में किसी होटल में बुकिंग नहीं मिली है.

लुंबिनी गौतम बुद्ध का जन्मस्थान है और भारतीय सीमा से सटा मशहूर पर्यटक स्थल है. हज़ारों की संख्या में बौद्ध श्रद्धालु यहाँ आते हैं. यहाँ पास में मुसलमान आबादी भी है.

पुलिस का कहना है कि वो कॉल डिटेल के ज़़रिए भी जाँच कर रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे