उत्तर कोरिया 'परमाणु हमले के लिए तैयार'

इमेज कॉपीरइट Reuters

उत्तर कोरिया ने अमरीका को चेतावनी दी है कि वह इस क्षेत्र में उकसाने वाली कार्रवाई न करे वरना वो 'परमाणु हमले के साथ पलटवार करने के लिए तैयार है.'

उत्तर कोरिया ने शनिवार को अपने संस्थापक किम इल-सुंग की 105वीं वर्षगांठ मनाई. 15 अप्रैल को उत्तर कोरिया राष्ट्रीय दिवस मनाता है.

इस मौके पर राजधानी प्योंगयांग में उत्तर कोरिया ने अपनी सैन्य ताक़त का प्रदर्शन किया. टैंकों और दूसरे रक्षा साजोसामान के साथ सैनिकों ने भव्य परेड निकाली.

परेड में नए अंतरमहाद्वीपीय और पनडुब्बी से लॉन्च की जाने वाली बैलिस्टिक मिसाइलों का भी प्रदर्शन किया गया.

उत्तर कोरिया के सैन्य अधिकारी चोइ रायोंग-हाई ने कहा, "हम जंग के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. किसी भी परमाणु हमले का जवाब अपनी शैली में देने के लिए हम तैयार हैं."

इमेज कॉपीरइट EPA

रायोंग को देश का दूसरा सबसे ताक़तवर अधिकारी माना जाता है.

समारोह के लिए राजधानी प्योंगयांग की सड़कें चमचमा रही थीं.

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने परेड की सलामी ली.

चीन को उत्तर कोरिया में 'किसी भी वक़्त' लड़ाई छिड़ने का डर

वो चाहती थी ओलंपिक के वक्त जहाज़ में ब्लास्ट

इमेज कॉपीरइट Reuters

कुल मिलाकर नज़ारा उल्लास का था. प्योंगयांग में छुट्टियों का सा माहौल था.

आम तौर पर दुनिया से कटे रहने वाले उत्तर कोरिया ने विदेशी मीडिया को भी इस समारोह को कवर करने के लिए बुलाया.

क्रूर तानाशाह या क़िस्सागोई के सुपरस्टार

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption उत्तर कोरिया में महिलाओं ने परंपरागत पोशाक में उद्घाटन समारोह में हिस्सा लिया

उत्तर कोरिया ने पहली बार पनडुब्बी से छोड़ी जाने वाली मिसाइलों का प्रदर्शन भी किया.

ये मिसाइलें परमाणु हथियार ले जा सकती हैं और लंबी दूरी तक मार कर सकती हैं.

समारोह में साफ तौर पर दिखा कि उत्तर कोरिया परमाणु कार्यक्रम को लेकर कितना गंभीर है.

उसकी कोशिश है कि अंतरमहाद्वीपीय मिसाइल पर परमाणु बम लगाना है जो दुनिया के किसी कोने में पहुंच सके.

इमेज कॉपीरइट EPA

इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए उसने अबतक पांच परमाणु बम परीक्षण और कई मिसाइल परीक्षण किए हैं.

प्योंगयांग का दावा है कि उसने परमाणु बम का ऐसा छोटा आकार बना लिया है जिसे मिसाइलों में फिट किया जा सकता है. हालांकि सबूतों के अभाव में विशेषज्ञों को इस दावे पर भरोसा नहीं है.

अमरीका समेत दुनिया के कई देश उत्तर कोरिया पर परमाणु कार्यक्रम छोड़ने का दबाव बनाते रहे हैं, हालांकि उत्तर कोरिया ने अभी तक इस दबाव की अनदेखी की है.

इमेज कॉपीरइट KCNA/AFP
Image caption सरकारी मीडिया ने उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन की ये तस्वीर जारी की है जिसमें वे सैनिकों के बीच दिखाई दे रहे हैं.

उत्तर कोरिया के हाल में मिसाइल परीक्षण करने से पूरे कोरियाई प्रायद्वीप में तनाव बना हुआ है.

जापान और दक्षिण कोरिया ने इन परीक्षणों पर कड़ी आपत्ति जताई और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को इस मुद्दे पर चर्चा के लिए आपात बैठक बुलानी पड़ी थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)