पाकिस्तान: 'लापता लड़की सीरिया जाकर आईएस में शामिल हुई थी'

  • 17 अप्रैल 2017
इमेज कॉपीरइट Getty Images

दावा किया गया है कि शुक्रवार को लाहौर में हुई पुलिस कार्रवाई से हिरासत में ली गई एक लड़की हैदराबाद, सिंध से लापता हुई नौरीन लग़ारी है.

पाकिस्तान के आतंकवादरोधी विभाग ने शुक्रवार को लाहौर के पंजाब हाउसिंग सोसायटी में कार्रवाई की थी.

विभाग की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि नौरीन लग़ारी तथाकथित इस्लामिक स्टेट में शामिल होकर दो महीने सीरिया में गुज़ार चुकी हैं.

बयान के अनुसार 'नौरीन सीरिया में दो महीने बिताने के बाद छह दिन पहले पाकिस्तान लौटी हैं.'

इमेज कॉपीरइट AFP

'ईस्टर पर हमला करने का इरादा'

बयान में कहा गया है कि 'इस कार्रवाई के दौरान एक चरमपंथी मारा गया, जबकि हैदराबाद से लापता छात्रा नौरीन लग़ारी को हिरासत में लिया गया.'

आतंकवादरोधी विभाग का आरोप है कि 'गिरफ़्तार की गईं नौरीन लग़ारी लाहौर में ईसाई समुदाय के धार्मिक त्योहार ईस्टर के दौरान हमला करना चाहती थीं.'

मेडिकल छात्रा नौरीन लग़ारी इसी साल दस फरवरी को लियाक़त यूनिवर्सिटी ऑफ़ मेडिकल साइंस से लापता हुई थी.

नौरीन लग़ारी सिंध यूनिवर्सिटी के रसायन विभाग के प्रोफ़ेसर अब्दुल जब्बार लग़ारी की बेटी हैं.

बीबीसी से बात करते हुए अब्दुल जब्बार लग़ारी और हैदराबाद पुलिस ने कहा है कि उन्हें जो भी जानकारी मिली है मीडिया के ज़रिए ही मिली है, अभी किसी जाँच एजेंसी ने उनसे कोई संपर्क नहीं किया है.

इमेज कॉपीरइट AFP

मार्च में हैदराबाद पुलिस ने कहा था कि नौरीन लग़ारी चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट से प्रभावित होकर संगठन के साथ जुड़ गईं हैं.

नौरीन लग़ारी ने सोशल मीडिया के ज़रिए अपने परिवार को बताया था कि वो तथाकथित इस्लामिक स्टेट पहुंच गई हैं.

पाकिस्तानी सेना के मुताबिक पंजाब हाउसिंग सोसाइटी में हुई कार्रवाई के दौरान सुरक्षाबलों ने विस्फ़ोटक, हथियार और आत्मघाती जैकेट भी बरामद की है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे