ब्रिटेन- संसद में चुनाव के लिए भारी समर्थन, 8 जून तारीख तय

  • 19 अप्रैल 2017
इमेज कॉपीरइट EPA

समय पूर्व चुनाव कराए जाने के ब्रितानी प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे के फैसले का हाउस ऑफ़ कामन्स में दो तिहाई से अधिक सांसदों ने समर्थन किया.

सदन में हुई वोटिंग में समर्थन में 522 वोट पड़े जबकि विरोध में केवल 13 वोट पड़े.

प्रधानमंत्री के फैसले को लेबर और लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टियों से भी समर्थन मिला.

टेरीज़ा मे ने कहा था कि ताज़ा चुनाव से ब्रेक्सिट के बारे में बहस के दौरान उन्हें और बल मिलेगा.

टेरीज़ा क्यों चाहती हैं समय से पहले आम चुनाव?

टेरीज़ा मे ब्रिटेन में मध्यावधि चुनाव चाहती हैं

जेरमी कोर्बिन ने चुनाव का स्वागत किया लेकिन प्रधानमंत्री पर मन बदलने का और कई मुद्दों पर वादे तोड़ने का आरोप लगाया.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

अगले आम चुनाव 2020 में होने वाले थे लेकिन फ़िक्स्ड टर्म पार्लियामेंट्स एक्ट के मुताबिक दो तिहाई सांसद अगर समर्थन करते हैं तो पहले भी चुनाव कराए जा सकते हैं.

टेरीज़ा मे ने सांसदों से कहा कि जून में ब्रेक्सिट बातचीत के दौर शुरू होने से पहले चुनाव कराए जाने का एक मौका था और इस प्रक्रिया को सफलता पूर्वक पूरा करने के लिए देश को मज़बूत नेतृत्व की ज़रूरत थी.

यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के निकलने की प्रक्रिया पूरी करने के लिए दो साल का समय है. टेरीज़ा मे को उम्मीद है कि जीत उनकी ही होगी.

इमेज कॉपीरइट EPA

यूरोपीय संघ पर जनमत संग्रह के बाद पिछली जुलाई में ही टेरीज़ा प्रधानमंत्री बनी थीं.

उन्होंने सांसदों से कहा कि ब्रेक्सिट बातचीत का सबसे संवेदनशील अहम पड़ाव 2018 के अंत में या 2019 के शुरू में होगा, जब आम चुनाव की तैयारियां हो रही होंगी. उस समय देश का चुनावी मोड में जाना ग़लत होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे