फ्रांस में राष्ट्रपति चुनाव के पांच प्रमुख चेहरे

इमेज कॉपीरइट Getty Images

फ़्रांस में रविवार 23 अप्रैल को राष्ट्रपति चुनाव के पहले दौर के लिए मत डाले जाएँगे.

इस दौर में किसी को भी पूर्ण बहुमत मिलने की संभावना नज़र नहीं आ रही है.

पहले और दूसरे नंबर पर रहने वाले प्रत्याशियों के बीच दूसरे और अंतिम चरण का चुनाव 7 मई को होगा.

वीडियोः फ़्रांस में चुनावी सरगर्मियां

पिछले 15 सालों में पहली बार मैरीन ल पेन के नेतृत्व वाली कट्टर दक्षिणपंथी पार्टी नेशनल फ़्रंट के जीतने की संभावना नज़र आ रही है.

ओपिनियन पोल्स में उदारवादी इमैनुएल मैक्रों उन्हें कड़ी चुनौती दे रहे हैं.

आइए जानते हैं फ्रांस के राष्ट्रपति चुनाव के पांच प्रमुख चेहरे कौन-कौन हैं-

1- मैरीन ल पेन, नेशनल फ़्रंट

इमेज कॉपीरइट Getty Images

जनवरी 2011 में मैरीन ने अपने पिता की जगह नेशनल फ्रंट का नेतृत्व संभाला था और उसके बाद हुए राष्ट्रपति चुनाव में वो तीसरे नंबर पर रहीं.

इस पार्टी को 2015 के स्थानीय चुनावों में काफ़ी बढ़त हासिल हुई थी.

पेरिस में राष्ट्रपति चुनाव से पहले 'चरमपंथी हमला'

वकालत से अपने कैरियर की शुरुआत करने वाली मैरीन 2010 में सड़क पर नमाज़ पढ़ने की तुलना जर्मन अतिक्रमण से की थी.

अब उन्होंने सभी क़ानूनी आप्रवासन को रद्द करने की बात कही है.

2- इमैनुएल मैक्रों, एन मार्श

इमेज कॉपीरइट Reuters

39 वर्षीय मैक्रों के फ्रांस के सबसे युवा राष्ट्रपति बनने के मौके हैं क्योंकि ओपनियन पोल्स बताते हैं कि कि अगर वो पहले राउंड में जीत जाते हैं तो दूसरे राउंड में मैरिन को हरा सकते हैं.

फ्रांस के चुनाव में भी ट्रंप वाले बदलाव का असर

वो कभी सांसद नहीं रहे और ना ही कभी किसी चुनाव में खड़े हुए लेकिन उनका राजनीतिक उभार बहुत आश्चर्यजनक रहा है.

2014 में वित्त मंत्री बनने से पहले वो राष्ट्रपति ओलांद के आर्थिक सलाहकार रहे हैं.

वो अपने मैक्रान लॉ के लिए काफी सुर्खियों में रहे, जो कि एक विवादास्पद सुधार विधेयक है जो दुकानों को रविवार को भी खुले रहने की इजाजत देता है.

3-फ्रांस्वा फ़ियो, दि रिपब्लिकन्स

इमेज कॉपीरइट AFP

62 साल के फ़ियो जब अपनी सेंटर राइट पार्टी में राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी में निकोलस सारकोज़ी और अलां जुपे को हराया तो वो जल्द ही लोगों की पसंद बन गए.

फ्रांस: अगला चुनाव नहीं

उनके प्रचार अभियान को लेकर विवाद तब खड़ा हुआ जब ये आरोप लगा कि उनकी पत्नी और दो बच्चों ने ग़लत तरीक़े से सरकारी धन प्राप्त किया.

जांच के बावजूद ओपिनियन पोल्स में वो आगे चल रहे दो उम्मीदवारों से बहुत पीछे नहीं हैं.

4- जां लुक मेलाशों, ला फ़्रांस इनसोमाइज़

इमेज कॉपीरइट Reuters

एक तरफ जहां सोशलिस्टों का समर्थन घटता जा रहा है, 65 साल के धुर वामपंथी मेलाशों दौड़ में आगे रहने वाले चार उम्मीदवारों में से एक हैं.

एक टेलीविज़न बहस के दौरान उन्होंने अपने तीख़े तंज से लोगों को ध्यान आकर्षित किया. उन्होंने होलोग्राम के मार्फत एक साथ छह जगहों पर रैली को संबोधित कर सुर्खियां बटोरीं.

उन्हें फ़्रांस की कम्युनिस्ट पार्टी का समर्थन प्राप्त है. उन्होंने उत्पादन साधनों, व्यापार और आपूर्ति को बदलने की बात कही है.

2008 में उन्होंने सोशलिस्ट पार्टी छोड़कर लेफ़्ट पार्टी की नींव रखी. वो यूरोपीय संघ के लिए चुने गए और अभी वहीं कार्यरत हैं.

5- बेनवा एमो, सोशलिस्ट पार्टी

इमेज कॉपीरइट Reuters

सोशलिस्ट पार्टी के अंदर वामपंथी विद्रोही के रूप में जाने जाने वाले पूर्व शिक्षा मंत्री एमो पार्टी से उम्मीदवार बनने में सफल रहे.

उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री मैनुअल वॉल्स को हराया.

49 वर्षीय हैमन राष्ट्रपति चुनाव की दौड़ में अपनी जगह बनाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं.

उन्हें मतभेदों से ग्रस्त सोशलिस्ट पार्टी में व्यापक समर्थन हासिल करने में भी संघर्ष करना पड़ा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे