अफ़ग़ानिस्तान: तालिबान के हमले में 130 की मौत

  • 22 अप्रैल 2017
हमले के बाद घटनास्थल के पास तैनात अफगान सैनिक. इमेज कॉपीरइट EPA

अफगानिस्तान के एक सैनिक अड्डे पर हुए शुक्रवार को हुए तालिबान के हमले में मरने वालों की संख्या बढ़कर 130 हो गई है.

मृतकों में अधिकांश सरकारी सैनिक हैं.

हमला शुक्रवार रात बाल्ख प्रांत के शहर मज़ार-ए-शरीफ में हुआ. दोनों ओर से लड़ाई कई घंटे तक चली.

सेना के एक प्रवक्ता ने बताया कि तालिबान के लड़ाके सेना की वर्दी में थे.

इमेज कॉपीरइट AFP

उन्होंने सैनिकों को उस वक्त निशाना बनाया जब सैनिक जुमे की नमाज पढ़ने के बाद मस्जिद से बाहर निकल रहे थे. और कैंटीन में बैठे हुए थे.

एक बयान में तालिबान ने हमले की ज़िम्मेदारी ली है. इसमें कहा गया है कि उसके आत्मघाती हमलावरों ने इसे अंज़ाम दिया.

इस लड़ाई में दस तालिबान लड़ाकों की मौत हो गई और एक हमलावर को हिरासत में लिया गया.

इमेज कॉपीरइट Reuters

सेना के एक प्रवक्ता ने कहा कि तालिबान लड़ाके सेना की वर्दी में आए थे और वो झुंड में थे और चेकपोस्ट से होकर आए.

अमरीकी सेना के प्रवक्ता जॉन थॉमस नए इसे एक बड़ा हमला बताया. लेकिन उन्होंने अफ़गानिस्तान के सैनिकों की तारीफ़ की.

मजार-ए-शरीफ अफगानिस्तान नेशनल आर्मी की 209 कोर का मुख्यालय है, जो उत्तरी अफगानिस्तान के अधिकांश इलाके को सुरक्षा देता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे