जर्मनी: 'एंटी मुस्लिम पार्टी' के ख़िलाफ़ लेफ़्ट का ज़ोरदार प्रदर्शन

जर्मनी इमेज कॉपीरइट Getty Images

जर्मनी के कोलोन शहर में करीब चार हज़ार पुलिस अधिकारियों को तैनात किया गया है.

सरकार ने यह तैनाती लेफ़्ट विंग के प्रदर्शनकारियों को देखते हुए की है, जो कोलोन शहर में एंटी इस्लाम और दक्षिणपंथी पार्टी एएफ़डी के शनिवार को आयोजित पार्टी सम्मेलन के ख़िलाफ़ प्रदर्शन करने के लिए इकट्ठा हुए.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इस्लाम के विरुद्ध खड़ी होने वाली एएफ़डी पार्टी, एक सह-नेता की तलाश में है, जिसे लेकर वह इस साल अंत में होने वाले आम चुनावों में उतर सके. इसी उद्देश्य से पार्टी ने कोलोन शहर में पार्टी सम्मेलन आयोजित किया है.

लेफ़्ट समर्थक प्रदर्शनकारियों और एएफ़डी पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़प में दो लोगों के घायल होने की ख़बर है. शहर में कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया गया है.

जर्मन अख़बारों में छपी ख़बर के मुताबिक़, लेफ़्ट समर्थक करीब दस हज़ार प्रदर्शनकारी कोलोन शहर में हैं. शहर की ज्यादाकर दुकानों को बंद कराया गया है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

सम्मेलनों के आयोजनों पर यह पहली बार नहीं है जब दक्षिणपंथी पार्टी एएफ़डी ने विवाद को आमंत्रित किया हो. इससे पहले, बीते साल जर्मनी के स्टटगार्ट में एएफ़डी के सभा करने के ख़िलाफ़ भी काफी प्रदर्शन हुए थे.

पार्टी की सह-नेतृत्वकर्ता फ़्राउके पेटी, जो कि नौ महीने की गर्भवती हैं, ने हालिया सम्मेलन में बयान दिया कि वो आगामी चुनाव में चांसलर एंगेला मर्केल को टक्कर देने के लिए पार्टी का प्रमुख चेहरा नहीं होंगी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

बर्लिन में मौजूद बीबीसी संवाददाता जेनी हिल के मुताबिक़, भयंकर इस्लाम विरोधी बयानबाज़ी के लिए कुख्यात एएफ़डी के हाथ से आगामी चुनाव फिसलता नज़र आ रहा है.

उनके मुताबिक़, जर्मन मतदाताओं को संतुष्ट करने के लिए आप्रवासियों के ख़िलाफ तैयार किया गया मंच पर्याप्त नहीं होगा. चुनाव में लोगों को इससे बेहतर मुद्दों की तलाश है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे