फ्रांस: 'ज़्यादा मुस्लिम बच्चे' वाले बयान में मेयर पर लगा जुर्माना

फ्रांस इमेज कॉपीरइट AFP / PASCAL GUYOT

फ्रांस में नफ़रत फैलाने के आरोप में एक दक्षिणपंथी मेयर पर एक लाख 40 हज़ार रुपए (2000 यूरो) का जुर्माना लगाया गया है. उन्होंने बताया था कि स्थानीय स्कूलों में बहुत ज़्यादा मुस्लिम बच्चे हैं.

रॉबर्ट मेनर्ड दक्षिणी शहर बेज़िए के मेयर हैं. वह प्रवासी विरोधी नेशनल फ्रंट पार्टी के सहयोगी हैं.

पिछले साल एक सितंबर को रॉबर्ट ने ट्वीट किया था कि प्रवासियों के कारण गोरे ईसाई बेदख़ली की स्थिति में आ जाएंगे.

फ्रांस में राष्ट्रपति चुनाव के पांच प्रमुख चेहरे

पांच सितंबर को रॉबर्ट ने एलसीआई टीवी से कहा था, ''मेरे शहर में सिटी सेंटर की एक क्लास में 91 फ़ीसदी बच्चे मुस्लिम हैं. बिल्कुल यह एक समस्या है. सहनशील होने की भी एक सीमा होती है.''

इमेज कॉपीरइट EPA

फ्रांस के क़ानून में नस्ल और धर्म के आधार पर लोगों का आंकड़ा प्रतिबंधित है.

रॉबर्ट ने अपने बयान का बचाव करते हुए कहा था, ''मैंने अपने शहर के हालात की व्याख्या की थी. यह कोई आकलन नहीं है बल्कि यह एक तथ्य है, जिसे हम देख सकते हैं.'' पेरिस के एक कोर्ट ने यह जुर्माना लगाया है.

फ्रांस राष्ट्रपति चुनाव: पहला राउंड पेन और मैक्रों के नाम

नस्लवादी विरोधी समूहों ने अदालत में केस दायर किया था. इनका कहना था कि रॉबर्ट ने बच्चों पर उंगली उठाई थी.

रॉबर्ट का कहना है कि वह इस फ़ैसले के ख़िलाफ़ अपील करेंगे. रॉबर्ट प्रवासियों को लेकर काफ़ी सख्त रहे हैं. एक निर्दलीय नेता के रूप में वह दक्षिणपंथी नेशनल फ्रंट का समर्थन करते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे