अमरीका ने कहा: कोरिया से बातचीत के लिए तैयार

  • 28 अप्रैल 2017
इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption अमरीकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने कहा है कि अमरीका सैन्य कार्रवाई के लिए भी तैयार है.

अमरीकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने कहा है कि उनका देश कोरियाई प्रायद्वीप से परमाणु हथियार हटाने को लेकर उत्तर कोरिया से बातचीत को तैयार है.

अमरीका चाहता है कि उत्तर कोरिया अपने परमाणु और मिसाइल कार्यक्रम को रोक दे.

साथ ही टिलरसन ने ये भी कहा कि यदि ज़रूरत पड़ी तो अमरीका सैन्य कार्रवाई करने के लिए भी तैयार है.

वहीं उत्तर कोरिया के सबसे मज़बूत सहयोगी चीन के विदेश मंत्री ने कहा है कि कोरिया संकट का सबसे सही समाधान शांतिपूर्ण ढंग से ही हो सकता है.

टिलरसन ने संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद की बैठक में कहा कि उत्तर कोरिया की ओर से पड़ोसी देशों पर परमाणु हमला करने का ख़तरा 'वास्तविक' है.

उत्तर कोरिया पर भारी तबाही संभव: ट्रंप

कोरिया पहुंची अमरीकी पनडुब्बी, उत्तर कोरिया का बड़ा अभ्यास

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption आशंका है कि उत्तर कोरिया परमाणु या मिसाइल परीक्षण कर सकता है.

अमरीका के हज़ारों सैनिक उत्तर कोरिया के पड़ोसी देशों दक्षिण कोरिया और जापान में मौजूद हैं.

रेक्स टिलरसन ने अन्य देशों से भी उत्तर कोरिया को अलग-थलग करने का आह्वान किया है.

शुक्रवार को जब अमरीका के प्रसारक एनपीआर ने टिलरसन से पूछा कि क्या अमरीका उत्तर कोरिया के साथ सीधी वार्ता के लिए तैयार है तो उन्होंने कहा, "ज़ाहिर तौर पर हम इसका समाधान इसी तरीके से चाहते हैं."

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
उत्तर कोरिया की चुनौती

"लेकिन उत्तर कोरिया को तय करना है कि वो सही मुद्दे पर हमसे बात करने के लिए तैयार हैं या नहीं."

टिलरसन ने संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों से उत्तर कोरिया पर प्रतिबंध लगाने और राजनयिक रिश्तों में कटौती करने का आह्वान भी किया.

द. कोरिया में अमरीकी मिसाइल सिस्टम की तैनाती शुरू

अमरीका को 'लपेट' सकती हैं उ.कोरिया की मिसाइलें

इमेज कॉपीरइट KCNA Handout/ Reuters
Image caption अमरीका और दक्षिण कोरिया के सैन्य अभ्यास के जवाब में उत्तर कोरिया ने भी बड़ा सैन्य अभ्यास किया है.

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में टिलरसन ने कहा कि अमरीका उत्तर कोरिया के ख़िलाफ़ कूटनीतिक और आर्थिक तरीके इस्तेमाल करेगा.

उन्होंने ये भी कहा कि ज़रूरत पड़ने पर सैन्य कार्रवाई भी की जा सकती है.

वहीं चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने सैन्य कार्रवाई के ख़िलाफ़ चेतावनी देते हुए कहा कि सैन्य बल के इस्तेमाल से समस्या का समाधान नहीं होगा बल्कि हालात और ज़्यादा ख़राब ही होंगे.

उन्होंने दक्षिण कोरिया और अमरीका के साझा सैन्य अभ्यास को रोके जाने की स्थिति में उत्तर कोरिया के सैन्य कार्यक्रम को लेकर जारी तनाव को शांतिपूर्ण ढंग से ख़त्म करवाने के अपने प्रस्ताव को फिर से दोहराया.

उत्तर कोरिया ने इस सप्ताह अपनी सैन्य क्षमता का प्रदर्शन करते हुए बड़ा सैन्य अभ्यास किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)