'इसराइल फ़लस्तीन शांति समझौता संभव है'

  • 4 मई 2017
इमेज कॉपीरइट Getty Images

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने फ़लस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास से मुलाकात के बाद कहा है कि मध्य पूर्व में शांति समझौते के संभावना है.

फ़लस्तीनी राष्ट्रपति के साथ व्हाइट हाउस में एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने विश्वास जताया कि 'हम इसे कर दिखाएंगे.'

गौरतलब है कि महमूद अब्बास के साथ डोनाल्ड ट्रंप की यह पहली बैठक है.

फ़लस्तीनी राष्ट्रपति अब्बास ने अपने अमरीकी समकक्ष से कहा है कि वह 1967 से पहले की सीमाओं के आधार पर 'दो राष्ट्र सिद्धांत' के आधार पर शांति चाहते हैं.

उन्होंने राष्ट्रपति ट्रंप को संबोधित करते हुए कहा कि 'अब हमें आपके साथ की उम्मीद है.'

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption फरवरी में इसराइली प्रधानमंत्री नेतनयाहू ने अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप से मुलाकात की थी.

हालांकि राष्ट्रपति ट्रंप 'दो राष्ट्र सिद्धांत' के बारे में अपनी राय रखने में कामयाब नहीं हुए.

इस साल फरवरी में राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा था कि दो राष्ट्र समाधान या एक राष्ट्र समाधान पर विचार करने के बाद उन्हें वही पसंद होगा जो दोनों पक्षों को पसंद है.

बुधवार को अमरीकी राष्ट्रपति ने कहा था कि क्षेत्र में शांति तब तक नहीं आ सकती जब तक दोनों पक्ष हिंसा की आग न भड़काएँ.

राष्ट्रपति महमूद अब्बास पर दबाव है कि वे इसराइल के साथ लड़ाई में मारे गए लोगों और इजराइली जेलों में बंद कैदियों के घर वालों की वित्तीय मदद रोकें.

इजराइली सरकार का कहना है कि ये धन आतंकवाद को हवा देता है. हालांकि फ़लस्तीनी अधिकारियों का कहना है कि ऐसा करना राष्ट्रपति अब्बास के लिए बेहद मुश्किल होगा क्योंकि वह फ़लस्तीन में अपनी लोकप्रियता खो रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे