बोको हराम की क़ैद से चिबोक लड़की ने आज़ाद होने से इंकार किया

  • 10 मई 2017
चिबोक लड़कियां इमेज कॉपीरइट AFP

नाइजीरिया के राष्ट्रपति ने कहा है कि इस्लामी चरमपंथी समूह बोको हराम ने जिन लड़कियों का अपहरण किया था उनमें से एक चिबोक लड़की ने आज़ाद होने से इनकार कर दिया है.

उनका कहना है कि लड़की ने आज़ाद होने की बजाय अपने पति से साथ रहना चुना है. ये शनिवार को बोको हराम की चुंगल से छुड़ाई गई लड़कियों में से एक हैं.

राष्ट्रपति मोहमदू बुहारी के प्रवक्ता गार्बा शेहू ने स्थानीय टीवी चैनल्स को बताया कि उस लड़की ने कहा, "मैं जहां हूं वहीं खुश हूं. मुझे पति मिल गया है."

80 लड़कियां बोको हराम की क़ैद से 'आज़ाद'

बोको हराम से लड़ती ये औरत

बोको हराम ने तीन साल पहले देश के उत्तर पूर्वी इलाके से 276 लड़कियों को अगवा किया था. इस इलाके में बगावत के दौरान बोको हराम ने कई और लोगों को भी अगवा किया था.

इमेज कॉपीरइट AFP

सरकार इस बात पर राज़ी हुई थी कि इनके बदले वो पकड़े गए बोको हराम के कुछ सदस्यों को रिहा करेगी. लेकिन कितने सदस्यों को छोड़ा जाना है इस बारे में कोई जानकारी नहीं है.

माना जा रहा है कि सौ से अधिक लड़कियां अब भी चरमपंथियों की क़ैद में हैं.

ऐसी ख़बरे हैं कि जो लड़कियां अगवा की गई थीं उनमे से कुछ ने बोको हराम के लड़ाकों से शादी कर ली और अब उनके बच्चे भी हैं.

नाइजीरिया- चिबोक से बोको हराम बाहरदी

बोको हराम के वीडियो में 'बंधक लड़कियां'दी

इमेज कॉपीरइट AFP

चिबोक लड़कियों के माता-पिता को धीरे-धीरे उनकी बेटियों के बारे में बताया जा रहा है.

सरकार ने लड़कियों के नाम ट्विटर पर पोस्ट किए हैं लेकिन चिबोक में सोशल मीडिया की पहुंच सब लोगों तक नहीं है.

शेहु का कहना है कि लड़कियों की पहचान की जा रही है ताकि जल्द से जल्द उन्हें उनके परिवारों से मिलाया जा सके.

#ब्रिंगबैकअवरगर्ल्स अभियान की संयोजक आयशा यसुफू ने समाचार एजेंसी एएफ़पी को बताया कि वो इन लड़कियों के उनके माता-पिता से मिलाने के काम में जुटे हुए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे