भारत में बनी ईवीएम, बोत्सवाना में हैक करने की चुनौती

  • 15 मई 2017
इमेज कॉपीरइट Getty Images

भारत में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) को लेकर छिड़ी बहस के बीच अफ्रीकी देश बोत्सवाना में चुनाव कराने वाली संस्था इंडिपेंडेंट इलेक्ट्रॉल कमीशन (आईईसी) ने हैकर्स को आमंत्रित किया है कि वो ईवीएम में छेड़छाड़ करके दिखाएं.

बोत्सवाना में साल 2019 में होने वाले आम चुनाव में भारत की भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल) में तैयार ईवीएम इस्तेमाल हो सकती हैं.

वेबसाइट ITWEBAfrica की रिपोर्ट के मुताबिक बोत्सवाना में आईईसी और बीईएल की टीम ईवीएम के काम करने के तरीके की जानकारी देने वाले हैं.

ईवीएम टैम्परिंग के लिए चुनाव आयोग की चुनौती

'आप की ईवीएम का हमारी ईवीएम से लेना-देना नहीं'

इमेज कॉपीरइट EPA

वेबसाइट के मुताबिक आईईसी के जनसंपर्क अधिकारी काबेलो हुलेला ने बताया, "अगले हफ्ते आयोजित होने वाले इस सत्र में उन लोगों के पास भी मौका होगा जो मशीन के सुरक्षातंत्र से छेड़छाड़ कर सकते हैं या फिर इसे हैक करना जानते हैं."

उन्होंने कहा, "वो तमाम लोग आमंत्रित हैं जो ईवीएम को हैक करने की तकनीकी क्षमता रखते हैं."

बोत्सवाना के राष्ट्रपति इयान खामा ने बीते साल चुनाव संशोधन बिल पर हस्ताक्षर करते हुए ईवीएम के इस्तेमाल का रास्ता साफ़ किया था.

वहीं बोत्सवाना के विपक्षी दल ईवीएम के इस्तेमाल को लेकर आशंकित हैं.

बोत्सवाना कांग्रेस पार्टी इसे लेकर कोर्ट में भी गई है और इसी वजह से ईवीएम को लेकर होने वाले सत्र में हिस्सा नहीं लेगी.

'दिल्ली विधानसभा में ईवीएम से छेड़छाड़ का लाइव डेमो'

इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम ज़ैदी

भारत में भी चुनाव आयोग ने शुक्रवार को ईवीएम के मुद्दे पर सर्वदलीय बैठक बुलाई थी.

सात राष्ट्रीय पार्टियों और 35 क्षेत्रीय दलों के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में हुई बैठक में मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम ज़ैदी ने कहा कि हाल में हुए विधानसभा चुनावों में इस्तेमाल हुईं ईवीएम में टैंपरिंग की चुनौती के साथ पार्टियों को ये साबित करने का भी मौक़ा मिलेगा कि चुनाव आयोग की ईवीएम में छेड़छाड़ संभव है.

दूसरी तरफ दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्विटर पर लिखा था कि 'चुनाव आयोग ने 'हैकाथन' करने से मना किया.'

इमेज कॉपीरइट TWITTER

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद बहुजन समाज पार्टी की नेता मायावती ने ईवीएम में छेड़छाड़ का आरोप लगाया था. इसके बाद समाजवादी पार्टी समेत कई पार्टियों ने इसकी जाँच की मांग की थी.

आम आदमी पार्टी ने गड़बड़ी का आरोप लगाया और उसके विधायक सौरभ भारद्वाज ने पिछले दिनों दिल्ली विधानसभा में एक डेमो देकर ये दावा किया कि ईवीएम में छेड़छाड़ संभव है.

ईवीएम का विरोध और ईवीएम पर चुप्पी- पूरी कहानी

ईवीएम विवाद में पुराने आंकड़ों का मायाजाल

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे