राष्ट्रपति ट्रंप पहले विदेश दौरे पर सऊदी अरब में

  • 20 मई 2017
इमेज कॉपीरइट AFP

अमरीका के राष्ट्रपति बनने के बाद डोनल्ड ट्रंप अपनी पहली विदेश यात्रा पर सऊदी अरब पहुंच गए हैं.

आठ दिन के विदेश दौरे में डोनल्ड ट्रंप इसराइल, फ़लस्तीनी इलाकों, ब्रसेल्स, द वैटिकन और सिसली भी जाएंगे.

राष्ट्रपति के तौर पर डोनल्ड ट्रंप का पहला विदेश दौरा ऐसे समय में हो रहा है जब अमरीका में एफ़बीआई प्रमुख पद से जेम्स कोमी को हटाए जाने पर हंगामा मचा हुआ है.

अमरीका में राष्ट्रपति चुनाव और कथित रूसी हस्तक्षेप की जांच की निगरानी के लिए विशेष अधिवक्ता नियुक्त करने के फ़ैसले की ट्रंप ने कड़ी आलोचना की है.

क्या डोनल्ड ट्रंप पर लग सकता है महाभियोग?

ट्रंप ने रूस से कहा, 'कोमी को हटाने से दबाव घटा'

अपनी पहली विदेश यात्रा के दौरान ट्रंप विश्व के तीन एकेश्वरवादी धर्मों- इस्लाम, यहूदी और ईसाइयों की धार्मिक राजधानियों का दौरा करेंगे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

उनके सऊदी अरब पहुंचने से कुछ ही घंटों पहले सऊदी अरब के रक्षा विभाग ने बताया कि रियाद के दक्षिण में एक रॉकेट गिराया गया जो यमन के हूती विद्रोहियों ने दागा था.

रिपोर्टों के मुताबिक यमन की राजधानी सना में सऊदी अरब के लड़ाकू विमानों ने जवाबी हमला किया है.

वहीं अमरीकी संगीतकार टोबी कीथ सऊदी गायक राबे सागेर के साथ रियाद में एक कंसर्ट भी करेंगे.

ईरान के बढ़ते प्रभाव पर चिंता

डोनल्ड ट्रंप रियाद में अरब इस्लामिक अमरीकी सम्मेलन में शिरकत करेंगे और इस्लाम के 'शांतिपूर्ण दृष्टिकोण की उम्मीद' विषय पर संबोधन करेंगे.

इससे पहले डोनल्ड ट्रंप राष्ट्रपति बनने के कुछ ही समय बाद सात मुस्लिम बहुल देशों से आने वाले लोगों पर प्रतिबंध लगाकर विवाद में आए थे.

इमेज कॉपीरइट AFP

सात मुस्लिम देशों से आने वाले लोगों पर ट्रैवल बैन के ट्रंप के कार्यकारी आदेश को अदालतों ने ख़ारिज कर दिया था.

सम्मेलन में इस्लामिक चरमपंथ से लड़ाई और क्षेत्र में ईरान के बढ़ते प्रभाव पर चर्चा की उम्मीद है.

ट्रंप ईरान के साथ किए परमाणु समझौते के आलोचक रहे हैं, इस समझौते के बाद ईरान पर प्रतिबंध हटाने का रास्ता साफ़ हो गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे