'परमाणु हथियारों से लैस' ईरान को ट्रंप की चेतावनी

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption इसराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतनयाहू के साथ अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप

इसराइल के दौरे पर आए अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप ने एक बार फिर से ईरान पर हल्ला बोला है.

अमरीका का कहना है कि चरमपंथ में ईरान की संलिप्तता हर तरफ देखी जा सकती है.

इसराइल दौरे की शुरुआत में ही ट्रंप ने 'परमाणु हथियारों से लैस' ईरान के खतरे को लेकर आगाह किया है.

यरुशलम में उन्होंने संवाददाताओं से कहा, "ईरान को परमाणु हथियार रखने की कभी भी इजाजत नहीं दी जानी चाहिए."

सऊदी अरब में मुस्लिम देशों के नेताओं को संबोधित करने के बाद ट्रंप इसराइल पहुंचे हैं.

अमरीका-सऊदी अरब: ये रिश्ता क्या कहलाता है?

डोनल्ड ट्रंप के कानों में गूंज रहे हैं ये शब्द

मुस्लिम देशों को लेकर बदल रहा है ट्रंप का नजरिया?

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप का सऊदी के शाही परिवार ने गर्मजोशी से स्वागत किया.

ईरान के साथ करार

यहां उनकी इसराइली और फलीस्तीनी नेताओं से अलग-अलग मुलाकात होनी है.

बतौर अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप अपने पहले विदेशी दौरे पर हैं और सऊदी अरब के बाद इसराइल उनका दूसरा पड़ाव है.

2015 में दुनिया के नेताओं के साथ हुए समझौते में ईरान ने अपने परमाणु कार्यक्रम पर रोकथाम करने की बात मानी थी.

इस करार के तहत ईरान को बदले में कुछ आर्थिक फ़ायदे हासिल हुए थे.

पिछले महीने ही व्हाइट हाउस ने इस बात की पुष्टि की थी ईरान के साथ वो करार अब भी वजूद में है.

ट्रंप पर ईरान का तंज़, सऊदी को लोकतंत्र-उदारवाद का गढ़ कहा

'धर्म के नाम पर आतंकवाद का खेल अब बंद हो'

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के सौ दिन

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)