अफ़गानिस्तान: रमज़ान का पहला दिन, 13 मौतें

इमेज कॉपीरइट AFP

अफ़गानिस्तान में अधिकारियों का कहना है कि देश के पूर्वी हिस्से में हुए एक आत्मघाती कार बम धमाके में कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई है.

मिल रही ख़बरों के अनुसार इस बात का पता नहीं चल पाया है कि हमले में आम नागरिक मारे गए हैं या फिर सुरक्षा बल के सैनिक.

घायल होने वालों में कुछ बच्चों के शामिल होने की ख़बरें हैं.

धमाका ख़ोस्ट प्रांत की राजधानी ख़ोस्ट शहर में एक बस स्टैंड के पास एक बम से किया गया था.

तालिबान ने हमले की ज़िम्मेदारी ली है.

शनिवार को इस्लाम धर्म को मानने वालों के लिए पवित्र माने जाने वाले रमज़ान का पहला दिन है. एक महीने चलने वाले रमज़ान के दौरान प्रार्थना और उपवास किया जाता है.

'सबसे बड़े बम से आईएस के 90 लड़ाकों की मौत'

ये हैं दुनिया के पांच सबसे बड़े बम

इमेज कॉपीरइट AFP

बढ़ रहे हैं हमले

अफ़गानिस्तान में बीते एक हफ्ते में हिंसा की घटनाएं बढ़ी हैं. इनमें से अधिकतर घटनाओं में तालिबान लड़ाके शामिल हैं.

सेना के अधिकारियों के अनुसार शुक्रवार को कंदहार में आर्मी के ठिकाने पर हमला हुआ था जिसमें 15 जवानों की मौत हो गई थी.

इससे पहले शाहवाली कोट ज़िले में गुरूवार रात हुए एक हमले में कई लोग घायल हो गए थे.

सोमवार को आर्मी के ठिकाने पर एक हमला हुआ था जिसमें 11 जवानों की मौत हुई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)