पाक मीडिया: 'भारत से मुक़ाबले के लिए पाक वायुसेना तैयार'

  • 28 मई 2017
इमेज कॉपीरइट Getty Images

इस हफ़्ते पाकिस्तान के अख़बारों में कई भारतीय ख़बरें भी सुर्ख़ियों में रहीं.

दुश्मन के हमले के लिए तैयार

पाकिस्तान के अख़बार दुनिया के मुताबिक़ भारतीय धमकियों का मुक़ाबला करने के लिए पाकिस्तान वायु सेना ने अपने सभी फ़ॉरवर्ड एयरबेस को ऑपरेशनल कर दिया है.

पाकिस्तान के वायुसेना प्रमुख सोहैल अमान ने सियाचिन में लड़ाकू विमान उड़ाया.

इमेज कॉपीरइट Reuters

अख़बार के मुताबिक़ सेना प्रमुख ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि पाकिस्तानी क़ौम को परेशान होने की ज़रूरत नहीं है.

सेना प्रमुख के बयान का हवाला देते हुए अख़बार लिखता है, ''दुश्मन के किसी भी हमले पर पाक वायुसेना भरपूर तरीक़े से ऐसा जवाब देगी कि उसकी आने वाली नस्लें भी याद रखेंगी. हम अमन पसंद क़ौम हैं, लेकिन हम हर तरह की चुनौती से निपटने के लिए भी तैयार हैं.''

इमेज कॉपीरइट Getty Images

नवाज़ का ढाई घंटे का भाषण, जो बोल ना पाए

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प के सऊदी अरब दौरे की ख़बर भी सारे अख़बारों की सुर्ख़ियों में रही.

अख़बार जंग ने ट्रम्प के हवाले से हेडलाइन लगाई है, 'अरब देश दहशतगर्दों को निकाल बाहर करें. ये पाप और पुण्य की लड़ाई है. ईरान दहशतगर्दी का केंद्र है.'

लेकिन अख़बार नवा-ए-वक़्त ने ट्रम्प दौरे की शायद सबसे मज़ेदार हेडलाइन लगाई है.

अख़बार लिखता है, ''नवाज़ शरीफ़ ढाई घंटे तैयारी करते रहे, लेकिन बोलने का मौक़ा नहीं दिया गया.''

इमेज कॉपीरइट Getty Images

अख़बार के मुताबिक़ ट्रम्प जब सऊदी अरब में थे तो राजधानी रियाद में 50 से ज़्यादा इस्लामी मुल्कों के शासनाध्यक्ष या राष्ट्राध्यक्षों की बैठक हुई जिसमें पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ भी शामिल थे.

अख़बार के अनुसार नवाज़ शरीफ़ ने अपने विशेष विमान में अपने सलाहकारों के साथ क़रीब ढाई घंटे तक स्पीच की तैयारी की जिसे वो उस बैठक में बोलने वाले थे. लेकिन उन्हें बोलने का मौक़ा नहीं दिया गया. अख़बार के मुताबिक़ ये परमाणु शक्ति संपन्न इकलौते इस्लामी देश पाकिस्तान का अपमान है.

अख़बार लिखता है कि सऊदी विदेश मंत्री ख़ुद इस्लामाबाद आए थे और नवाज़ शरीफ़ को उस बैठक में शामिल होने की दावत दी थी. अख़बार के अनुसार, ''ट्रम्प ने भारत को दहशतगर्दी का शिकार मुल्क क़रार दिया जबकि सच्चाई ये है कि भारत ने मासूम कश्मीरियों को दहशतगर्दी का शिकार बना रखा है.''

अख़बार के अनुसार ट्रम्प ने भारत का बचाव करके पाकिस्तान के ज़ख़्मों पर नमक छिड़का है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

उज़मा पर उगला ज़हर

पाकिस्तान से लौटकर आने वाली भारतीय महिला उज़मा भारतीय मीडिया में हर जगह सुर्ख़ियों में रहीं. लेकिन पाकिस्तानी मीडिया में उनको कोई ख़ास जगह नहीं मिली.

अख़बार नवा-ए-वक़्त ने सुर्ख़ी लगाई है, 'उज़मा ने भारत पहुंचते ही ज़हर उगल दिया. अख़बार लिखता है कि प्रेस कॉन्फ़्रेंस के दौरान भारत का दोहरा रवैया सामने आ गया.

अख़बार के मुताबिक़ सुषमा स्वराज ने तो उज़मा के सही सलामत भारत लौटने पर पाकिस्तानी सरकार, वहां की अदालत और वकीलों का शुक्रिया अदा किया, लेकिन उज़मा के ज़रिए वो पाकिस्तान के ख़िलाफ़ ज़हर उगलवाती रहीं.

उज़मा ने पाकिस्तान को मौत का कुंआ क़रार दिया था और भारतीय लोगों से अपील की थी कि वो पाकिस्तान न जाएं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे