बांग्लादेशी समुद्री तट से टकराया तूफ़ान 'मोरा'

  • 30 मई 2017
बांग्लादेश इमेज कॉपीरइट AFP/GETTY IMAGES

बांग्लादेश के दक्षिणी-पूर्वी समुद्री तट से तूफ़ान 'मोरा' टकरा चुका है. तूफ़ान के आने से देश में भारी बारिश हो रही है.

ये तूफ़ान चटगांव और कॉक्स बाज़ार के बीच में समुद्री तट पर टकराया. जब ये तूफ़ान तट से टकराया तब उसकी गति 117 किलोमीटर प्रति घंटे थी.

इस तूफ़ान को मोरा नाम दिया गया है. इससे पहले, लाखों लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है.

इस तूफ़ान से होने वाले ख़तरे को देखते हुए समुद्री तट से सटे दक्षिण और पूर्वी इलाके के शहरों को ग्रेट डेंजर लेवल-10 में डाला गया है. जबकि पश्चिम के शहरों में ये स्तर 8 है.

श्रीलंका और भारत में असर

ये समुद्री तूफ़ान श्रीलंका में भारी बारिश के चलते बना है. श्रीलंका में भारी बारिश और भू-स्खलन के चलते कम से कम 180 लोगों की मौत हो चुकी है.

इमेज कॉपीरइट EPA

भयंकर बारिश के चलते श्रीलंका में बीते 14 सालों की तुलना का सबसे बड़ी बाढ़ देखने को मिल रही है और कम से कम पांच लाख लोगों पर इसका असर देखने को मिल रहा है.

बांग्लादेशी आपदा प्रबंधन विभाग के प्रवक्ता अबुल हाशिम ने समाचार एजेंसी एएफ़पी को बताया, "हमारी कोशिश है कि किसी की जान नहीं जाए. हम तूफ़ान से ठीक पहले दस लाख से ज़्यादा लोगों को सुरक्षित जगह पर पहुंचाना चाहते हैं."

अबुल हाशिम के मुताबिक अभी तक तीन लाख लोगों को अब तक सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया जा चुका है.

बांग्लादेशी तूफ़ान मोरा के चलते भारत के उत्तर-पूर्व हिस्सों में भारी बारिश होने की आशंका जताई जा रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे