दया याचिका तक कुलभूषण को फांसी नहीं- पाकिस्तान

इमेज कॉपीरइट AAMIR QURESHI/AFP/GETTY IMAGES

पाकिस्तान ने कहा है कि कुलभूषण जाधव को तब तक फांसी नहीं दी जाएगी जब तक उनकी दया याचिका का निपटारा नहीं हो जाता.

समाचार एजेंसी पीटीआई ने पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नफ़ीस जक़ारिया के हवाले से कहा है, "इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ़ जस्टिस की ओर से फांसी पर रोक लगाए जाने से प्रभावित हुए बिना, हम जाधव को तब तक फांसी नहीं देंगे जब तक दया याचिका का निपटारा पहले सेना प्रमुख और फिर राष्ट्रपति की ओर से नहीं हो जाता."

कुलभूषण जाधव- ICJ ने भारत की दलील क्यों मानी? अब आगे क्या?

अंतरराष्ट्रीय अदालत ने जाधव की मौत की सज़ा पर रोक लगाई

इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ़ जस्टिस ने हाल ही में भारत की अपील पर कुलभूषण की फांसी की सज़ा पर अंतरिम रोक लगा दी थी.

अंतरराष्ट्रीय कोर्ट के आदेश के संबंध में अगली सुनवाई के लिए भारत और पाकिस्तान कोर्ट के प्रमुख के साथ आठ जून को मिलने वाले हैं, जिसमें पाकिस्तानी टीम का नेतृत्व देश के अटार्नी जनरल अशतर औसफ़ अली करेंगे.

इमेज कॉपीरइट Icj

पिछली सुनवाई के दौरान भारत ने वियना कनवेंशन के तहत कुलभूषण को काउंसुलर एक्सेस नहीं दिए जाने का हवाला दिया था और पाकिस्तान ने इस मामले में कोर्ट के अधिकार क्षेत्र से बाहर होने की दलील दी थी.

कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने जासूसी के आरोप में फांसी की सज़ा सुनाई है.

एक तरफ़ पाकिस्तान का आरोप है कि वो जासूस हैं, तो दूसरी तरफ़ भारत का कहना है कि जाधव का ईरान से अपहरण किया गया था.

भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव लगभग एक साल से पाकिस्तान में कैद हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे