सुप्रीम कोर्ट मुस्लिम बहुल देशों पर बैन बहाल करे: ट्रंप

अमरीका इमेज कॉपीरइट AFP

डोनल्ड ट्रंप प्रशासन ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है कि वह मुस्लिम बहुल देशों के लोगों पर लगाए गए ट्रैवल बैन को बहाल करे.

ट्रंप प्रशासन की तरफ़ से लगाए गए इस प्रतिबंध पर निचली अदालत ने रोक लगा दी थी. इस मामले में सरकार की तरफ़ से आपात स्थिति में अर्जी सुप्रीम कोर्ट में लगाई गई है. सरकार चाहती है कि सुप्रीम कोर्ट निचली अदालत की रोक को ख़त्म करे.

निचली अदालत ने राष्ट्रपति ट्रंप के इस फ़ैसले को पक्षपाती कहते हुए रोक लगा दी थी. इस विवादित प्रतिबंध को लेकर पूरे अमरीका में विरोध प्रदर्शन हुए थे और तीखी बहस भी हुई थी.

ट्रंप के ट्रैवल बैन के फ़ैसले पर कोर्ट की रोक

अमरीकी जस्टिस डिपार्टमेंट के प्रवक्ता सेरा इसगर फ्लोरेस ने कहा, ''हमलोगों ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है कि वह इस अहम मामले पर सुनवाई करे. ट्रंप प्रशासन इस मामले में आश्वस्त है कि यह फ़ैसला नियम के तहत राष्ट्र और अमरीकी नागरिकों की आतंकवाद से सुरक्षा के लिए लिया गया है.''

इमेज कॉपीरइट EPA

उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति उन देशों के लोगों को अमरीका में नहीं आने देना चाहते हैं जो आतंकवाद को बढ़ावा देते हैं. उन्होंने कहा कि जब तक हम अमरीका की सुरक्षा को लेकर आश्वस्त नहीं हो जाते हैं तब तक यह प्रतिबंध जारी रहेगा.

ट्रंप के इस कार्यकारी आदेश को जनवरी महीने में क़ानूनी हार का सामना करना पड़ा था. शुरू में वॉशिंगटन और मिनेसोटा ने इसे ख़ारिज कर दिया था.

इसके बाद उन्होंने सोमालिया, ईरान, सीरिया, सूडान, लीबिया और यमन के नागरिकों को नए वीज़ा के लिए संशोधित आदेश पास किया था. इसके साथ ही अस्थायी रूप से सभी शरणार्थियों पर भी रोक लगा दी गई थी. हालांकि मैरीलैंड के एक कोर्ट ने इस फ़ैसले को संवैधानिक अधिकारों का उल्लंघन बताकर रोक लगा दी थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे