सोशल: मनमोहन बनकर अनुपम खेर कहेंगे - 'जी मैडम''

इमेज कॉपीरइट TWITTER

अभिनेता अनुपम खेर जल्द ही एक फिल्म 'द ऐक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के रोल में नज़र आएंगे.

ये फ़िल्म वरिष्ठ पत्रकार और लेखक संजय बारू की किताब पर आधारित है जो पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार थे.

प्रधानमंत्री कार्यालय ने संजय बारू की किताब की आलोचना की

'सोनिया गांधी के हस्तक्षेप से शुरु हुई गलतियां'

खेर ने फिल्म का पोस्टर रिलीज़ करते हुए कहा, "ख़ुद को एक अभिनेता के तौर पर एक बार फिर खोजना ख़ुद को चुनौती है और मैं डॉ. मनमोहन सिंह का किरदार निभाने के लिए उत्साहित हैं"

इमेज कॉपीरइट TWITTER

फिल्म की स्क्रिप्ट हंसल मेहता ने लिखी है जो इससे पहले शाहिद और अलीगढ़ जैसी फिल्मों का निर्देशन कर चुके हैं.

हालांकि, सोशल मीडिया यूज़र्स ने फिल्म को लेकर मिलीजुली प्रतिक्रिया दी है.

इमेज कॉपीरइट TWITTER

ट्विटर यूजर रंजना रावत ने अपने ट्वीट में फिल्म के बारे में बात करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर कई मुद्दों को लेकर चुप्पी साधने के आरोपों को लेकर तंज़ कसा है.

इमेज कॉपीरइट TWITTER

ट्विटर यूज़र सीवीवीएस दत्त ने भी पीएम मनमोहन सिंह पर चुप्पी से जुड़े आरोपों को लेकर टिप्पणी की है.

इमेज कॉपीरइट TWITTER

ट्विटर यूज़र ने इस फिल्म के बारे में बात करते हुए अरविंद केजरीवाल का नाम लेते हुए कहा है कि अगर मनमोहन सिंह एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर हैं तो अरविंद केजरीवाल सुसाइडल यानी आत्मघाती मुख्यमंत्री हैं.

सोशल मीडिया पर कई ट्विटर यूजर्स फिल्म की टाइमिंग के बारे में भी सवाल उठा रहे हैं और इसे प्रोपोगेंडा वॉर का हिस्सा करार दिया है.

सोशल मीडिया यूज़र्स का तर्क है कि फिल्म अगले प्रधानमंत्री चुनाव के दौरान रिलीज़ होगी और ये बिलकुल भी एक्सीडेंटल नहीं है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे