लीबिया में छह साल बाद रिहा हुए गद्दाफ़ी के बेटे सैफ़ अल इस्लाम

  • 11 जून 2017
इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption सैफ़ अल इस्लाम

लीबिया के अपदस्थ शासक मुअम्मर गद्दाफ़ी के दूसरे बेटे सैफ़ अल इस्लाम गद्दाफ़ी को लीबिया से रिहा किए जाने की ख़बर आ रही है.

लंदन स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स से पीएचडी करने वाले 44 साल के सैफ़ अल इस्लाम को मुअम्मर गद्दाफ़ी का उत्तराधिकारी समझा जा रहा था.

बीते छह सालों तक ज़िन्टान शहर में कैद रखने के बाद एक चरमपंथी समूह ने उनकी रिहाई की घोषणा की है.

कहाँ है मुअम्मर गद्दाफ़ी का परिवार?

गद्दाफ़ी को आज भी मसीहा क्यों मानते हैं लोग?

साल 2015 में उन्हें त्रिपोली की एक कोर्ट ने मौत की सज़ा सुनाई थी लेकिन इस चरमपंथी समूह ने उन्हें सौंपने से इनकार कर दिया था.

इससे पहले भी इनके रिहा होने की ख़बरें आ चुकी हैं. हालांकि, त्रिपोली सरकार की तरफ से सैफ़ अल इस्लाम की रिहाई की पुष्टि नहीं हुई है.

अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय में मामला

सैफ़ अल इस्लाम के ख़िलाफ़ अंतर्राष्ट्रीय अपराध न्यायालय में भी मानवता के खिलाफ अपराध करने से जुड़ा मुकदमा जारी है. गद्दाफ़ी का शासन काल खत्म होने के बाद सैफ़ अल इस्लाम तीन महीनों तक फ़रार रहे लेकिन उन्हें साल 2011 में कैद कर लिया गया.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

सैफ़ अल इस्लाम को उनके पिता की सरकार के सुधारवादी चेहरे के रूप में देखा जाता था और उन्होंने गद्दाफ़ी सरकार के पश्चिमी दुनिया के साथ संबंधों को विकसित करने में एक अहम भूमिका निभाई.

लेकिन साल 2011 में उन पर हिंसा भड़काने और प्रदर्शनकारियों की हत्या करने का आरोप लगा. इसके चार साल बाद उन्हें गद्दाफ़ी की 30 करीबियों के साथ गोलियों से भूने जाने की सज़ा सुनाई गई.

हालांकि अब तक ये पता नहीं चला है कि उन्हें किस आधार पर रिहा किया गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)