मूसल में इस्लामिक स्टेट के कब्ज़े में हैं एक लाख लोग: संयुक्त राष्ट्र

  • 16 जून 2017
मूसल इमेज कॉपीरइट Getty Images

संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि तथाकथित चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट ने इराक़ के मूसल शहर में एक लाख से अधिक लोगों को बंदी बना रखा है.

संयुक्त राष्ट्र ने चेतावनी दी है कि इस्लामिक स्टेट इन नागरिकों को मानव-ढाल के रूप में इस्तेमाल कर रहा है.

शरणार्थी सेवा के लिए बनाई गई संयुक्त राष्ट्र की एजेंसी के प्रवक्ता ने कहा है कि उग्रवादियों ने जब अपने गढ़ की ओर पीछे हटना शुरू किया, तो वे स्थानीय लोगों को अपने साथ ले गए.

संयुक्त राष्ट्र ने बताया है कि इस्लामिक स्टेट का कब्ज़ा अब सिर्फ इराक़ के पुराने शहर के हिस्से तक ही सीमित रह गया है.

इराक़ से मिल रहीं रिपोर्टों के मुताबिक़, जिन लोगों को इस्लामिक स्टेट ने बंदी बनाया है, उनके पास खाने-पानी का कोई बंदोबस्त नहीं है.

इराक़ी सैन्य बल लगातार इस पुराने शहर में दाख़िल होने की कोशिश कर रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे