ट्रंप ने ओबामा का क्यूबा समझौता 'रद्द' किया

इमेज कॉपीरइट EPA

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप का कहना है कि वो पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा और क्यूबा की सरकार के बीच हुए समझौते को रद्द कर रहे हैं.

दो साल पहले ही शीत युद्ध के वक्त से विरोधी रहे क्यूबा और अमरीका के बीच राजनयिक संबंधों की बहाली हुई थी.

मयामी में क्यूबाई अमरीकी लोगों के एक समारोह में ट्रंप ने कहा कि अमरीका साम्यवादी दमन यानी कम्युनिस्ट ऑप्रेशन के नाम पर चुप नहीं बैठेगा.

ट्रंप ने क्यूबा के ख़िलाफ़ फिर से यात्रा और व्यापार संबंधी प्रतिबंध लगा दिए हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption अमरीका-क्यूबा रिश्तों से संबंधित एक्ज़ीक्यूटिव ऑर्डर पर हस्ताक्षर करने के बाद डोनल्ड ट्रंप.

लेकिन इस कड़े कदम के साथ वो क्यूबा के साथ राजनयिक संबंध ख़त्म नहीं कर रहे हैं . क्यूबा के हवाना में मौजूद अमरीकी दूतावास को फिलहाल बंद नहीं किया जाएगा.

ट्रंप का कहना है कि भविष्य में दोनों देशों के बीच संबंध कैसे होंगे ये इस बात पर निर्भर करता है कि क्यूबा अपने देश में गणतंत्र और आर्थिक सुधार लाने के लिए क्या कोशिशें करता है.

क्यूबा-अमरीका- 54 साल बाद बहाल होंगे संबंध

54 साल बाद अमरीका में क्यूबा का राजदूत

जुलाई 2015 में अमरीका और क्यूबा 54 साल के विरोध को छोड़ एक दूसरे के देश में 1961 में बंद हुए अपने दूतावास दोबारा खोलने पर राज़ी हुए थे.

फिदेल कास्त्रो की अगुआई में हुई क्रांति के दो साल बाद दोनों देशों ने कूटनीतिक संबंधों तोड़ लिए थे और अमरीका ने क्यूबा से किसी तरह के लेन-देन पर प्रतिबंध लगा दिए थे.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption क्यूबा के हवाना में टेलीविज़न पर लोगों ने ट्रंप का भाषण सुना.

अमरीका-क्यूबा- ऐतिहासिक पहल, पर मतभेद जारी

इसके बाद बीते साल मार्च में अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने क्यूबा की यात्रा की थी. 1959 के बाद क्यूबा जाने वाले वो पहले सत्तारूढ़ राष्ट्रपति थे.

हालांकि इस दौरान उन्होंने का था कि क्यूबा पर लगाई गई आर्थिक पाबंदियां हटाना अमरीकी कांग्रेस के हाथ में है लेकिन ये मानवाधिकार जैसे मुद्दों पर दोनों देशों के बीच बातचीत पर निर्भर करता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे