'लंदन आग' में मरने वालों की संख्या बढ़ने की आशंका

लंदन आग इमेज कॉपीरइट AFP

लंदन के पश्चिमी हिस्से में स्थित एक बहुमंजिला इमारत में बीते मंगलवार को आग लगने से अब तक 58 लोगों के मरने की आशंका जताई जा रही है.

इस अग्निकांड में मरने वाले लोगों के ताजा आंकड़े में बुधवार को बताई गई 30 लोगों की मौत का आंकड़ा शामिल है.

लंदन की आग: अब तक क्या-क्या हुआ?

'9वीं मंज़िल से फेंके बच्चे को एक व्यक्ति ने कैच किया'

तस्वीरें: लंदन की भीषण आग से तबाही

लंदन पुलिस के कमांडर स्टुअर्ट कंडी ने कहा है कि अग्निकांड में मरने वालों की संख्या अभी बढ़ सकती है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि राहत कार्यों में अभी हफ्तों का समय लग सकता है और जल्द ही पीड़ितों के परिजनों को ढूंढ़कर उनसे मिलवाने की कोशिश करेंगे.

आख़िर हुआ क्या?

उत्तरी केंसिंगटन के ग्रेनफ़ेल टावर में ब्रिटिश समय के मुताबिक रात के 12 बजकर 54 मिनट पर आग लगी.

ऐसा कहा जा रहा है कि आग इमारत के चौथी मंज़िल पर लगी थी और कुछ ही देर में पूरी बिल्डिंग में फैल गई.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
अगर रमज़ान ना होता तो और नुकसान होता?

इस आग पर काबू पाने के लिए 45 दमकल गाड़ियां और कम से कम 250 दमकलकर्मियों ने घंटों मशक्कत की.

आग लगने की वजह क्या है?

अभी तक साफ़ नहीं है कि आग कैसे लगी. ग्रेनफ़ेल टावर पश्चिमी लंदन में लाटिमर सड़क पर स्थित है.

यह लैंकास्टर वेस्ट एस्टेट का है. लैंकास्टर एक सोशल हाउसिंग कॉम्पलेक्स है. यह टावर वेस्टफील्ड शॉपिंग सेंटर के पास है.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption लंदन की बहुमंजिला इमारत में आग की तस्वीर

इस टावर के बारे में हमें क्या जानना चाहिए?

ग्रेनफ़ेल टावर का निर्माण 1974 में किया गया था. एक करोड़ पाउंड की लागत से इस इमारत का नवीनीकरण किया गया था.

पिछले साल ही इस इमारत की मरम्मत पूरी हुई थी. स्थानीय ग्रेनफ़ेल ऐक्शन ग्रुप ने दावा किया है इस इमारत के नवीनीकरण के दौरान आग से निपटने के लिए एक ब्लॉक बनाया गया था.

इस ब्लॉक पर तभी लोगों ने आपत्ति जताई थी कि यह काफ़ी संकुचित है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे