अमरीकी लड़ाकू विमान से 5 फ़ुट दूर था रूसी फ़ाइटर

इमेज कॉपीरइट Getty Images

अमरीकी अधिकारियों का कहना है कि रूसी लड़ाकू विमान ने बाल्टिक क्षेत्र में एक अमरीकी ख़ुफ़िया विमान के बेहद क़रीब से उड़ान भरी.

अधिकारियों का कहना है कि रूसी लड़ाकू विमान, अमरीकी विमान यूएस आरसी-135 से मात्र पांच फ़ुट (1.5 मीटर) की दूरी पर उड़ रहा था.

अधिकारियों का कहना है कि बाल्टिक हवाई क्षेत्र में विमानों का इस तरह से पास आना बेहद ख़तरनाक था क्योंकि रूसी विमान के पायलट का विमान पर नियंत्रण सधा हुआ नहीं था.

अमरीकी आरोपों को नकारते हुए रूस का कहना है कि अमरीकी विमान ने उकसाने वाली हरक़त की थी.

अमरीका ने सीरिया के सुखोई विमान को मार गिराया

सीरियाई विमान को गिराने के बाद रूस की चेतावनी

इसी बीच रूसी मीडिया की रिपोर्टों में कहा गया है कि रूसी रक्षा मंत्री को ले जा रहे एक रूसी विमान के पास नेटो का लड़ाकू विमान आ गया था.

इमेज कॉपीरइट AFP

रूस की सरकारी समाचार सेवा इतरतास के मुताबिक़, एफ़-16 को रूसी लड़ाकू विमान एसयू-27 ने खदेड़ा.

समाचार सेवा के एक संवाददाता रक्षा मंत्री के विमान में मौजूद थे.

रिपोर्ट में बताया गया है कि सर्गेई शोइगू रूस के क्षेत्र कालिनिनग्राद जा रहे थे. उनका विमान अंतरराष्ट्रीय क्षेत्र में उड़ान भर रहा था.

रिपोर्ट में इससे अधिक जानकारी नहीं दी गई है.

अमरीकी लड़ाकू विमान के सीरिया में एक सीरियाई लड़ाकू विमान को मार गिराने के बाद से हाल के दिनों में अमरीका और रूस के बीच तनाव बढ़ा है.

अमरीका का कहना है कि सीरियाई विमान अमरीका समर्थित विद्रोहियों पर हमले कर रहा था.

इस घटना के बाद रूस ने कहा है कि सीरिया के ऊपर उड़ान भर रहे अमरीकी विमानों को निशाना माना जाएगा.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption रूसी विमान सीरियाई युद्ध में हिस्सा ले रहे हैं.

सीरियाई युद्ध में रूस सीरिया का समर्थन कर रहा है.

मंगलवार को एक ईरान निर्मित ड्रोन विमान को भी सीरिया में अमरीका ने मार गिराया था.

अंतरराष्ट्रीय हवाई क्षेत्र में अमरीकी और रूसी विमानों का ख़तरनाक स्तर तक पास आने की ये पहली घटना कालिनिनग्राद से 40 किलोमीटर दूर हुई थी.

हवा में एक फ़ाइटर जेट से दूसरे को गिराना इतना दुर्लभ क्यों?

अमरीकी रक्षामंत्रालय पेंटागन के प्रवक्ता कैप्टन जेफ़ डेविस का कहना है कि अमरीकी विमान अंतरराष्ट्रीय क्षेत्र में उड़ रहा था और उसने उकसावे की कोई हरक़त नहीं की थी.

नेटो और रूस के विमान हवा में आसपास आते रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे