गर्मी लगी तो लड़कों ने स्कर्ट पहनी ली

ब्रिटेन के डेवोन में प्रशासन ने करीब 30 लड़कों को शॉर्ट्स पहनकर स्कूल आने से मना किया तो उन्होंने स्कर्ट पहनकर इसका विरोध जताया.

एक्सेटर के आईएससीए एकेडमी में छात्रों ने बढ़ती गर्मी के कारण स्कूल से यूनिफॉर्म बदलने की गुज़रिश की थी लेकिन उन्हें मना कर दिया गया.

विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लेने वाले एक छात्र ने बताया, "हमें शॉर्ट्स पहनने की इजाज़त नहीं दी गई और मैं पूरा दिन फुलपैंट पहन कर नहीं बैठ सकता. गर्मी लगती है."

डेवोन लाइव के अनुसार स्कूल की हेडटीचर एमी मिशेल ने कहा, "शॉर्ट्स स्कूल की यूनिफॉर्म का हिस्सा नहीं है."

छात्रों के अनुसार स्कर्ट पहनने का आइडिया उन्हें हेडटीचर से ही मिला जिन्होंने पहले ऐसा कुछ सुझाया था. हालांकि एक छात्र ने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि उनका वाकई में ऐसा कोई मतलब था.

इस स्कूल में अब लड़के भी पहन पाएंगे स्कर्ट!

ब्लॉग: स्कर्ट जितनी छोटी ईमेल

छात्रों को उम्मीद है कि स्कूल शॉर्ट्स के संबंध में अपनी पॉलिसी बदलेगा और फिलहाल हेडटीचर ने इस दिशा में संकेत भी दिए हैं.

एमी मिशेल का कहना है, "हम मानते हैं कि बीते कुछ दिन काफी गर्म थे और हम हरसंभव कोशिश कर रहे हैं कि हमारे छात्र और स्टाफ सभी स्कूल में सहज महसूस कर सकें."

वो कहती हैं, "फिलहाल हमारे स्कूल की यूनिफॉर्म में शॉर्ट्स शामिल नहीं है. हम छात्रों और उनके अभिभावकों से बात करके कोई फ़ैसला लेंगे."

168 साल पहले जिसने महिलाओं को पहनाई स्कर्ट!

'स्कर्ट पहनकर न घूमें विदेशी महिलाएं'

क्लेयर रीव्स के बेटे इसी स्कूल में पढ़ते हैं. उनका कहना है "मैंने स्कूल से बच्चों के शॉर्ट्स पहनने के बारे में बात की थी लेकिन उन्होंने मना कर दिया."

वो कहती हैं, "मुझे गर्व है कि बच्चों ने अपने अधिकारों के लिए आवाज़ उठाई. लोग महिलाओं और पुरुषों के समान अधिकारों की बात करते हैं तो स्कूल यूनिफॉर्म क्यों अलग-अलग हों?"

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे