इवांका की सीट पर उलझे ट्रंप और चेल्सी क्लिंटन

Ivanka Trump इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption जर्मनी के हैम्बर्ग में जी20 सम्मेलन के दौरान इवांका ट्रंप

अमरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप को जी20 शिखर वार्ता के दौरान दुनिया भर के बड़े नेताओं के बीच अपनी बेटी इवांका को सीट देने के मामले में विरोध का सामना करना पड़ा. उनका विरोध पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन की बेटी चेल्सी क्लिंटन ने किया है.

ट्रंप ने ट्वीट कर जर्मनी के हैम्बर्ग में हुई इस बैठक में इवांका को अपनी सीट देने के निर्णय को ''ठीक' बताया है. उन्होंने यह भी कहा कि अगर यह विकल्प हिलेरी क्लिंटन ने दिया होता तो मीडिया इसे "चेल्सी फ़ॉर प्रेस!" कहता.

इवांका ट्रंप: दुनिया की 'सबसे पावरफ़ुल' बेटी

विवादित हैंडशेक के कारण कई बार चर्चा में रहे हैं ट्रंप

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन की बेटी चेल्सी क्लिंटन

ट्रंप के ट्वीट के जवाब में चेल्सी क्लिंटन ने ट्वीट किया कि उसके माता-पिता ऐसा कभी नहीं करते.

जी20 शिखर वार्ता के दौरान ब्रिटिश प्रधानमंत्री और चीन के राष्ट्रपति के बीच इवांका को बिठाने के बाद शनिवार को इंटरनेट पर अमरिका की फ़र्स्ट डॉटर की जम कर आलोचना हुई. इस दौरान ट्रंप इंडोनेशिया के राष्ट्रपति के साथ वार्ता के लिए बैठे थे.

अमरीकी राष्ट्रपति ने सोमवार की सुबह ट्वीट कियाः "जब मैं जापान और अन्य देशों के साथ कुछ समय की बैठक के लिए गया तो मैंने इवांका को सीट पर बैठने को कहा. ये सही था."

उन्होंने जर्मन चांसलर एंगेला मर्केल का हवाला देते हुए कहा कि वो उनके इस कदम से सहमत थीं.

इमेज कॉपीरइट Twitter

इवांका ने किया ट्रंप का बचाव, हुई हूटिंग

इसके बाद उन्होंने एक और ट्वीट में लिखा, "अगर चेल्सी क्लिंटन को अपनी मां के लिए सीट रखने को कहा जाता तो फ़ेक न्यूज "चेल्सी फ़ॉर प्रेस!" कहता.

इमेज कॉपीरइट Twitter

बिल क्लिंटन ने जब राष्ट्रपति पद की शपथ ली थी तब चेल्सी 12 साल की थीं. चेल्सी ने ट्रंप के ट्वीट का जवाब इस लहज़े में दिया, "सुप्रभात राष्ट्रपति महोदय. मेरी मां या पापा मुझसे ऐसा कभी नहीं कहते.''

'ट्रंप की चली तो तबाह हो जाएगी धरती'

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption व्हाइट हाउस की प्रवक्ता सारा हकाबी सैंडर्स

व्हाइट हाउस की प्रवक्ता सारा हकाबी सैंडर्स ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप का ट्वीट क्लिंटन परिवार पर हमला करने के लिए नहीं था, बल्कि यह व्हाइट हाउस के वरिष्ठ सलाहकार के ख़िलाफ़ अपमानजनक हमले के जवाब में था.

उन्होंने कहा, "अगर इवांका का सरनेम ट्रंप नहीं होता तो मुझे लगता है कि उनपर लगातार हमला किए जाने की बजाय उनकी प्रशंसा होती. मुझे लगता है कि हमें इवांका ट्रंप पर गर्व करना चाहिए."

अपनी मां हिलेरी के 2016 राष्ट्रपति चुनाव में हार के बाद से चेल्सी क्लिंटन सोशल मीडिया पर राष्ट्रपति ट्रंप और उनकी प्रशासनिक नीतियों की लगातार आलोचना करती रही हैं. पिछले महीने ट्रंप ने क्लिंटन परिवार पर रूस के साथ अनुचित संबंध रखने का आरोप लगाते हुए कई ट्वीट किए.

कुछ दिनों बाद चेल्सी क्लिंटन (37) ने आरोप लगाया था कि प्रेस सचिव सीन स्पाइसर व्हाइट हाउस के मुख्य रणनीतिकार स्टीव बैनन के "फ़ैट-शेमिंग" के शिकार हुए हैं.

चेल्सी और इवांका ट्रंप कह चुकी हैं कि दोनों परिवारों में राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता के बावजूद वो बहुत अच्छी दोस्त हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे