ट्रंप को हुई थी 'संवेदनशील' जानकारी की पेशकश

इमेज कॉपीरइट Getty Images

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के बेटे ने रूस के एक नागरिक की ओर से उन्हें भेजे गए ईमेल जारी किए हैं जो बताते हैं कि उन्हें हिलेरी क्लिंटन के बारे में 'संवेदनशील' जानकारी की पेशकश की गई थी.

पब्लिसिस्ट रॉब गोल्डस्टोन ने डोनल्ड ट्रंप जूनियर को बताया था कि उनके पास ऐसी सूचनाएं हैं जो 'रुस और उसकी सरकार के ट्रंप के लिए समर्थन का हिस्सा हैं'.

अमरीकी अधिकारी राष्ट्रपति चुनाव में रूस के कथित हस्तक्षेप की जांच कर रहे हैं.

गोल्डस्टोन ने इसके पहले चुनाव में रूस की सरकार की भूमिका की कोई जानकारी होने से इनकार किया था.

ट्रंप जूनियर ने ट्विटर पर जो ईमेल जारी किया है उसके मुताबिक, " रूस के क्राउन प्रोसिक्यूटर (ये पद अस्तित्व में ही नहीं है) ट्रंप के अभियान को कुछ ऐसे आधिकारिक दस्तावेज और जानकारियों की पेशकश कर रहे हैं जो हिलेरी और रूस के साथ उनके लेन-देन की जानकारी देंगे और आपके पिता के लिए बहुत उपयोगी रहेंगे."

ट्रंप जूनियर ने इसका जवाब ये कहते हुए दिया, "आप जो कह रहे हैं, अगर वैसा है तो मुझे रास आएगा."

ये इस बात की पहली पुष्टि की तरह नज़र आता है कि ट्रंप के सहयोगियों ने रुस के अधिकारियों की ओर से संवेदनशील जानकारी हासिल करने की आस में एक बैठक में हिस्सा लिया था.

डोनल्ड ट्रंप पर मंडरा रहे रूसी 'संकट' के बादल

पुतिन से मुलाक़ात पर क्यों हो रही है ट्रंप की आलोचना?

इमेज कॉपीरइट Reuters

गोल्डन स्टोन के ईमेल के एक हफ्ते के अंदर न्यूयॉर्क में एक बैठक आयोजित की गई जिसमें ट्रंप जूनियर, राष्ट्रपति ट्रंप के दामाद जैरेड कुशनर और अभियान समिति के तत्कालीन चेयरमैन पॉल मैनाफोर्ड मौजूद थे.

राष्ट्रपति चुने जाने के बाद से ही डोनल्ड ट्रंप इन आरोपों से घिरे हुए हैं कि रुस ने हिलेरी क्लिंटन के अभियान को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की थी. ट्रंप ये कहते हुए इससे इनकार करते रहे हैं कि उन्हें इस बात की कोई जानकारी नहीं है.

रूस ने भी चुनाव में हस्तक्षेप के आरोपों का बार-बार खंडन किया है.

न्याय विभाग ने मई के महीने में एफबीआई के पूर्व निदेशक रॉबर्ट मुलर को रूस के मामले को देखने के लिए नियुक्त किया था.

एक दिन पहले ही डोनल्ड ट्रंप जूनियर ने माना था कि उन्होंने 9 जून 2016 को रूस की वकील नतालिया वेसेनीत्सकया से मुलाकात की थी. उन्होंने बताया था कि उनके पास हिलेरी क्लिंटन को नुकसान पहुंचाने वाली सामग्री है.

ट्रंप जूनियर ने ज़ोर देकर कहा था कि वकील के पास कोई 'अर्थपूर्ण जानकारी नहीं थी' और वो रूस के लोगों पर प्रतिबंधों के बारे में बात करना चाहती थीं लेकिन ये ट्रंप के करीबियों के साथ रूस के एक नागरिक की निजी मुलाकात की पहली पुष्टि थी.

नतालिया का कहना है कि उनके पास ऐसी कोई जानकारी नहीं थी जिससे हिलेरी क्लिंटन को नुकसान होता.

इवांका की सीट पर उलझे ट्रंप और चेल्सी क्लिंटन

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे