कश्मीर में चीन की कोई भूमिका नहीं: भारत

सैनिक इमेज कॉपीरइट AFP/Getty

भारत से बढ़ते तनाव के बीच चीन ने कहा है कि वह भारत और पाकिस्तान के संबंध बेहतर करने के लिए 'अपनी रचनात्मक भूमिका' अदा करने के लिए तैयार है.

लेकिन भारत ने चीन की इस पेशकश को ठुकरा दिया है. भारत ने कहा कि यह द्विपक्षीय मामला है और पाकिस्तान के लिए बातचीत का दरवाजा हमेशा खुला है.

चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि कश्मीर की स्थिति तनावपूर्ण है इसलिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय का ध्यान इस ओर आकर्षित होने लगा है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता गेंग शुआंग ने बीजिंग में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर के सवाल पर बढ़ते तनाव पर चिंता जताई है.

उन्होंने कहा, ''नियंत्रण रेखा पर दोनों देशों के बीच जिस तरह से टकराव जारी है, उससे सिर्फ़ दोनों देशों की शांति और स्थिरता ही ख़तरे में नहीं होगी बल्कि पूरा इलाक़ा प्रभावित होगा.''

'चीन युद्ध नहीं चाहता क्योंकि जीत नहीं सकता'

क्या चीन भूटान को अगला तिब्बत बनाना चाहता है?

'चीन युद्ध नहीं चाहता क्योंकि जीत नहीं सकता'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

शुआंग ने कहा कि भारत और पाकिस्तान दक्षिण एशिया के अहम देश हैं लेकिन कश्मीर में तनावपूर्ण स्थितियों के कारण अब इस विवाद पर सभी का ध्यान आकर्षित हो रहा है.

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने उम्मीद जताई कि दोनों देश ऐसे क़दम उठाएंगे जिससे तनाव कम करने और क्षेत्र में शांति स्थापित करने में मदद मिलेगी.

सिरे से ख़ारिज

इमेज कॉपीरइट Getty Images

भारत ने चीन के इस प्रस्ताव को सिरे से ख़ारिज कर दिया है. भारत ने कहा कि यह द्विपक्षीय मामला है और पाकिस्तान के लिए बातचीत का दरवाजा हमेशा खुला है. भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने कहा कि मूल समस्या सीमा पार से आतंकवाद की है जिसे एक देश बढ़ावा दे रहा है.

चीन से भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव कम करने के लिए बयान ऐसे समय में आया है जब भारत और चीन के सैनिक सिक्किम की सीमा के क़रीब डोकलाम क्षेत्र में एक दूसरे के आमने-सामने हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

दो दिन पहले चीन के सरकारी अख़बार 'ग्लोबल टाइम्स' के एक कॉलम में लिखा गया था कि जिस तरह भारत के सैनिक डोकलाम के विवादित क्षेत्र में भूटान से दाखिल हुए हैं, इसी तर्क के आधार पर तीसरे देश की सेना पाकिस्तान के अनुरोध पर कश्मीर में प्रवेश कर सकती है. तीसरे देश से उनका मतलब चीन से था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे