'प्रोस्थेटिक पेनिस' पहन कर मर्द बनने का धोखा देने वाली महिला को सज़ा

इमेज कॉपीरइट PA
Image caption गेल न्यूलैंड को साढ़े छह साल की सज़ा हुई

कृत्रिम लिंग (प्रोस्थेटिक पेनिस) पहन कर मर्द बनने का धोखा देने वाली एक महिला को कोर्ट ने सज़ा दी है.

ब्रिटेन में की 27 साल की गेल न्यूलैंड ने दो साल पहले ऑनलाइन एक फर्ज़ी प्रोफ़ाइल बनाई जिसमें उन्होंने खुद को मर्द दिखाया था.

ये मामला 2013 का था, जिसमें नवंबर 2015 में इसी अपराध के लिए आठ साल की सज़ा दी गई थी.

लेकिन बाद में ये सज़ा इस आधार पर रद्द कर दी गई कि सुनवाई करने वाले जज का फैसला निष्पक्ष और संतुलित नहीं था.

मेट्रो की 'पेनिस सीट' जिस पर कोई नहीं बैठना चाहता

औरत या मर्द होने का एहसास बचपन से?

लेकिन मामले की दोबारा सुनावाई हुई तो ज्यूरी ने न्यूलैंड को तीन बार बिना पीड़िता को बताए प्रोस्थेटिक पेनिस के साथ संबंध बनाने का दोषी पाया.

हालांकि न्यूलैंड ने आरोपों से इनकार किया है. मानचेस्टर क्राउन कोर्ट में उन्हें साढ़े छह साल की सज़ा दी गई.

जब लगा औरत के साथ हूं...

इस सुनवाई के दौरान पीड़िता ने कोर्ट को बताया कि संबंध बताते समय अभियुक्त ने उसे आंख पर पट्टी बांधे रहने के लिए राज़ी किया था.

पीड़िता के अनुसार, जब उन्हें लगा कि वो पुरुष की बजाय किसी महिला के साथ हैं तो उन्होंने पट्टी हटाई.

उनके मुताबिक़, उन्हें लगा कि वो किसी 'के फ़ार्च्यून' के साथ संबंध बना रही हैं, जैसा उन्हें फ़ेसबुक प्रोफ़ाइल में दिखा था.

इस प्रोफ़ाइल को न्यूलैंड ने 15 साल की उम्र में बनाया था और इसके लिए एक अमरीकी पुरुष के फ़ोटो और वीडियो को इस्तेमाल किया था.

पीड़िता ने कहा, "मुझे तब पता चला जब मैंने अपनी पट्टी हटाई. मुझे एक सेकेंड के लिए लगा कि मैं किसी औरत के साथ हूं."

हालांकि न्यूलैंड ने अपना जेंडर छुपाने की बात से इनकार किया और दावा किया कि दोनों महिलाएं समलैंगिक हैं और वो अपनी सेक्सुअलिटी को लेकर परेशान थीं. जब वो मिलीं तो उन्होंने संबंध बनाया. इस दौरान उन्होंने 'के' के रूप में मर्द की भूमिका निभाई.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे