पूरे अमरीका को तबाह कर सकती है हमारी मिसाइलें: उत्तर कोरिया

उत्तर कोरिया मिसाइल इमेज कॉपीरइट Getty Images

उत्तर कोरिया ने अपनी हालिया इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल (ICBM) के सफल परीक्षण पर ख़ुशी जाहिर करते हुए इसे अमरीका के लिए कड़ी चेतावनी बताया है.

उत्तर कोरिया की सरकारी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शीर्ष नेता किम जोंग-उन ने कहा कि टेस्ट में यह साबित हो गया है कि अब पूरा अमरीका उनकी ज़द में है.

मिसाइल का यह परीक्षण उत्तर कोरिया के पहले ICBM के तीन हफ़्ते बाद किया गया है.

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया के इस कदम को ''बेहद लापरवाही भरा और ख़तरनाक'' बताया है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

चीन ने भी मिसाइल परीक्षण की निंदा की है साथ ही सभी संबंधित देशों को एकजुट होने की भी सलाह दी है, ताकि समय रहते मुसीबत का हल तलाशा जा सके.

क्षमता

मिसाइल परीक्षण की पुष्टि करते हुए कोरिया ने बताया कि ICBM ने कऱीब 47 मिनट तक अपनी गति बनाए रखी और यह 3724 किलोमीटर (2300 मील) ऊपर तक गई.

उत्तर कोरिया ने कहा कि मिसाइल के दोबारा सफल परीक्षण से इसकी क्षमता का पता चला है.

कोरिया की सेंट्रल न्यूज़ एजेंसी ने कहा कि टेस्ट के बाद उनके सुप्रीम लीडर ने इस बात की जानकारी दी है कि अब पूरा अमेरिका उनकी ज़द में है.

इस मिसाइल का मॉडल ठीक वैसा ही है जैसी एक मिसाइल का टेस्ट तीन जुलाई को किया गया था. हालांकि अधिकारियों का कहना है कि उसके मुक़ाबले यह मिसाइल ज़्यादा तेज़ और ऊंचाई तक जा सकती है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

उत्तर कोरिया का ICBM मिसाइल परीक्षण का दावा

क्या उत्तर कोरिया की मिसाइलें नकली हैं?

चिंता बढ़ी

मिसाइल परीक्षण के कुछ ही मिनटों बाद दक्षिण कोरिया, जापान और अमेरिका के अधिकारियों ने इसकी लोकेशन, रेंज और फ़्लाइट टाइम को लेकर जानकारी साझा की. हालांकि अब तक किसी ने विस्तार से रिपोर्ट नहीं दी है.

इस मिसाइल को लेकर 2017 में उत्तर कोरिया ने कुल 14 मिसाइलों का परीक्षण किया है. पेंटागन के प्रवक्ता कैप्टन जेफ़ डेविस ने कहा कि उत्तर कोरिया ने मिसाइल परीक्षण किया है और इससे जुड़ी और सूचनाओं का इंतज़ार है.

इमेज कॉपीरइट AFP

जापान के चीफ़ कैबिनेट सेक्रेटरी योशिहिदे सुगा का कहना है कि मिसाइल 45 मिनट तक हवा में रही. उन्होंने कहा कि मिसाइल जापानी सी में गिरी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे