हम उत्तर कोरिया के दुश्मन नहीं: अमरीका

इमेज कॉपीरइट Reuters

मिसाइल कार्यक्रम को लेकर चल रही तनातनी के बीच अमरीका ने कहा है कि वो उत्तर कोरिया में सत्ता परिवर्तन का इरादा नहीं रखता है.

अमरीकी विदेश मंत्री रैक्स टिलरसन ने कहा कि उनका देश उत्तर कोरिया के साथ बातचीत करना चाहता है. टिलरसन ने कहा, "हम आपके (उत्तर कोरिया) दुश्मन नहीं हैं."

इस बीच, एक वरिष्ठ रिपब्लिकन सांसद का कहना है कि राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप उत्तर कोरिया के साथ जंग को एक विकल्प के रूप में देख रहे हैं.

माना जा रहा है कि हाल ही में उत्तर कोरिया ने जिस मिसाइल का परीक्षण किया है वो अमरीका तक मार करने में सक्षम है.

उत्तर कोरिया ने फिर दागी मिसाइल

तो क्या ऐसे उत्तर कोरिया की मिसाइल गिराएगा अमरीका?

उत्तर कोरिया के साथ युद्ध हुआ तो कितनी तबाही

'सेना भेजने का इरादा नहीं'

टिलरसन ने कहा, "हम सत्ता में बदलाव नहीं चाहते, हम नहीं चाहते कि वहां मौजूदा सरकार का तख्ता पलट हो, हम वहाँ अपनी सेना को भेजने का कोई बहाना नहीं चाहते."

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption अमरीकी विदेश मंत्री रैक्स टिलरसन

अमरीकी विदेश मंत्री ने कहा, "हम आपके दुश्मन नहीं हैं, हम आपके लिए ख़तरा नहीं हैं, लेकिन आप अभूतपूर्व तरीके से हमारे लिए ख़तरा दिख रहे हैं और हमें इस पर कार्रवाई करनी होगी."

संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंधों के बावजूद उत्तर कोरिया लगातार मिसाइल परीक्षण कर रहा है. उत्तर कोरिया ने पिछले हफ़्ते शुक्रवार को इंटरकॉन्टिनेंटल मिसाइल का परीक्षण किया था. इस मिसाइल समेत उत्तर कोरिया इस साल अब तक 14 मिसाइलों का परीक्षण कर चुका है.

रिपब्लिकन सांसद लिंडसे ग्राहम ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप ने उन्हें बताया है कि अगर उत्तर कोरिया अपने मिसाइल कार्यक्रम पर यूँ ही आगे बढ़ता रहा तो दोनों देशों (अमरीका और उत्तर कोरिया) के बीच जंग छिड़ सकती है.

एनबीसी को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा, "उन्होंने मुझसे ऐसा कहा था. मैं उन पर यकीन करता हूँ."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)