दुबई की 79 मंजिला टॉर्च टावर में लगी आग

2011 में आम लोगों के रहने के लिए खोली गई थी इमारत इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption 2011 में आम लोगों के रहने के लिए खोली गई थी इमारत

दुबई की गगनचुंबी इमारत टॉर्च टावर में भीषण आग लग गई. पिछले दो सालों में आग लगने की ये दूसरी घटना है.

इससे पहले 2015 में भी इस टावर में आग लगने से नुकसान हुआ था.

सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए वीडियो फ़ुटेज में दिख रहा है कि इमारत की ऊपरी मंजिलों तक आग की लपटें पहुंच गई हैं और मलबा नीचे गिर रहा है.

अधिकारियों के मुताबिक, नागरिक सुरक्षा के कार्यकर्ताओं ने समय रहते इमारत को खाली करा लिया और आग पर काबू पा लिया गया है.

विश्व की ऊंची इमारतों में शामिल टॉर्च टावर में आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है.

अमीरों की ऐशगाह दुबई में क्या हैं रईसज़ादों के शौक

दुबई में ड्रोन में घूम सकेंगे मुसाफिर

इमेज कॉपीरइट Getty Images

सरकार के मीडिया ऑफिस ने ट्वीट कर कहा है कि अभी तक घटना में किसी के घायल होने की ख़बर नहीं है.

यह भी ट्वीट किया गया है कि गर्म इमारत को ठंडा करने का काम चल रहा है.

इससे पहले 2015 में टॉर्च टावर में आग लगी थी, जिसमें यह क्षतिग्रस्त हो गया था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption इससे पहले 21 फरवरी, 2015 को भी इमारत में आग लगी थी

ये है इमारत की खासियत

  • 79 मंजिला टॉर्च टावर को 2011 में खोला गया था.
  • उस समय यह विश्व की सबसे ऊंची आवासीय इमारत थी. इसके बाद इससे भी बड़ी छह इमारतें बन चुकी हैं.
  • इस इमारत में 676 फ़्लैट हैं.
  • यहां दो बेडरूम फ्लैट की शुरुआती कीमत क़रीब 3.2 करोड़ रुपए है.
  • यहां रहने वालों के लिए आठ मंजिला गैराज और स्वीमिंग पुल भी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे