कबूतरों के चक्कर में मिलने लगे हैं तलाक़

इमेज कॉपीरइट Getty Images

प्रेम के प्रतीक रहे कबूतर, इंडोनेशिया में अब तलाक़ का कारण बनने लगे हैं.

मीडिया में आई ख़बरों के अनुसार, देश में तलाक के आवेदनों में भारी वृद्धि के पीछे कबूतर प्रेम को बड़ी वजह बताया जा रहा है.

दि जकार्ता पोस्ट के अनुसार, इंडोनेशिया के केंद्रीय प्रांत जावा की धार्मिक अदालत के एक अधिकारी का कहना है कि उनके कार्यालय को जुलाई में तलाक़ के लिए 90 आवेदन प्राप्त हुए हैं.

देखे हैं ऐेसे सजे-धजे कबूतर

लाहौर के कबूतर.. पंजाब दा दाना-पानी

अधिकारी के मुताबिक, देश में तलाक के आवेदन में, जून के मुक़ाबले अधिक वृद्धि हुई है. जून में तलाक केवल 13 आवेदन प्राप्त हुए थे.

उन्होंने कहा, 'अधिकांश आवेदक पत्नियां हैं, जिन्होंने इसके पीछे आर्थिक कारण कारण बताए हैं, क्योंकि उनके पति कबूतरबाज़ी के आदी रहे हैं.'

इमेज कॉपीरइट AFP

गौरतलब है कि इंडोनेशिया में कबूतरबाज़ी बहुत अधिक लोकप्रिय है जिसमें भाग लेने वाले लोगों को नकद पुरस्कार दिए जाते हैं.

इन कबूतरबाज़ों को 'पाइलट' कहा जाता है. इंडोनेशिया में महिलाएं अपने पतियों से इस बात पर नाराज होती हैं कि वे अपना सब समय अपने घरों के बजाय कबूतरों के साथ बिताते हैं.

अधिकारी के अनुसार, आर्थिक संकट ने हालात को और ख़राब कर दिया है. ज़्यादातर महिलाएं काम करती हैं, जबकि पुरुष बेरोज़गार हैं.

एक महिला ने दि जकार्ता पोस्ट बताया उनके पति उन्हें कभी कभी जीती हुई राशि दे देते हैं, लेकिन आम तौर पर वो उनसे सिगरेट के लिए भी पैसे मांगते रहते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे