अवसाद से ऐसा भी हो सकता है आपका हाल

डिप्रेशन, मानसिक स्वास्थ्य, खूबसूरती इमेज कॉपीरइट Facebook

डिप्रेशन या किसी और मानसिक तकलीफ़ से जूझ रहे शख़्स के लिए अपना ध्यान कितना मुश्किल होता है, बताने की ज़रूरत नहीं है. सुबह बिस्तर छोड़ने से लेकर ब्रश करने और बाल संवारने जैसे छोटे-मोटे काम पहाड़ से लगने लगते हैं.

डिप्रेशन की शिकार लड़की की पोस्ट क्यों हुई वायरल?

सितारों को भी डिप्रेशन होता है : रवीना टंडन

अमरीका की केली ओल्सन हेयरड्रेसर ने डिप्रेशन से पीड़ित अपने एक ऐसे ही क्लाइंट की स्टोरी दुनिया को सुनाई है. केली ने मंगलवार को अपनी एक फ़ेसबुक पोस्ट में एक लड़की के बारे में बताया है जो उनके सलून में आई थी.

तस्वीरों में साफ़ देखा जा सकता है कि 16 साल की उस लड़की के बाल इस कदर उलझे हुए थे जैसे उन्होंने बरसों से कंघी न देखी हो.

इमेज कॉपीरइट CAPRI COLLEGE
Image caption हेयर ड्रेसर मारिया वेंगर

...जब छोटे-मोटे काम हो जाते हैं मुश्किल

केली अपने फेसबुक पोस्ट में लिखती हैं,''आज का दिन मेरे लिए सबसे कठिन अनुभवों में से एक रहा. मेरे पास 16 साल की एक लड़की आई जो कुछ सालों से डिप्रेशन से जूझ रही है. उसने मुझे बताया कि वह इतना बुरा महसूस करती थी कि उसके लिए बालों में कंघी करना तक मुश्किल था. ''

केली आगे लिखती हैं, ''वो सिर्फ़ वॉशरूम जाने के लिए उठती थी. हाईस्कूल में पढ़ने वाली उस लड़की को एक फोटो खिंचानी थी. उसने मुझसे कहा कि मैं उसके बाल बिल्कुल छोटे कर दूं क्योंकि वो इतने उलझे हुए बालों को सुलझाने का दर्द नहीं सह सकती थी.''

इमेज कॉपीरइट Facebook
Image caption तब और अब

सबको है ख़ूबसूरत लगने का हक

लड़की के बाल कमर तक लंबे थे और वो या तो सिर मुंडाना चाहती थी या फिर बाल बिल्कुल छोटे कराना. केली और उनकी साथी मारिया वेंगर ने ऐसा करने से इनकार कर दिया. केली ने बीबीसी को बताया,''हम उसके लंबे बालों को इस तरह नहीं काटना चाहते थे. हम कुछ ऐसा करना चाहते थे जिससे कम से कम बाल काटना पड़े.''

केली और मारिया ने उस लड़की के साथ दो दिन बिताए और तकरीबन 10 घंटे तक उसके बाल संवारती रहीं. मारिया ने बताया,''मां बनने के बाद मैं भी मानसिक तकलीफ़ों से होकर गुजरी हूं इसलिए मैं उसका दर्द अच्छी तरह समझ पा रही थी.''

ख़ुशी के आंसू

मारिया कहती हैं, ''मुझे पता है कि हम डिप्रेशन में खुद को बेकार समझने लगते हैं. किसी को ऐसा नहीं लगना चाहिए. मैं जानती थी कि मुझे उस बच्ची की मदद करनी है, ठीक वैसे ही, जैसे दूसरों ने मेरी मदद की थी. हम सबको ख़ूबसूरत लगने का हक है.''

इमेज कॉपीरइट CAPRI COLLEGE
Image caption हेयरड्रेसर केली ओल्सन

इस तरह केली और मारिया ने उसके बालों को सुलझाकर उसे स्टाइलिश कट दिया. केली ने बताया,''उसने मुझसे कहा कि वो आज स्कूल की तस्वीरों में मुस्कुराएगी. आज बहुत दिनों बाद वह पहले जैसा महसूस कर रही थी.'' मारिया ने बताया कि हेयरकट के बाद लड़की को देखकर उनकी आंखों में ख़ुशी के आंसू थे.

बीमारी छुपाकर जीने की मुश्किल चुनौती

ख़बर लिखे जाने तक केली की फ़ेसबुक पोस्ट को 67,064 लोगों ने शेयर किया है. इस पर लाखों लाइक्स और हज़ारों कमेंट्स आए हैं. लोगों ने केली और मारिया की दिल खोलकर तारीफ़ की है. कइयों ने डिप्रेशन और मानसिक परेशानियों से जुड़े अपने अनुभवों को भी साझा किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे