डोकलाम विवाद पर चीनी मीडिया के नए वीडियो में क्या है?

चीन इमेज कॉपीरइट Twitter/XHNews

चीनी न्यूज़ एजेंसी शिन्हुआ ने डोकलाम विवाद पर एक नया वीडियो जारी करके भारत से शांति बनाए रखने की बात कही है.

चीन की सरकारी मीडिया ने इससे पहले भी एक प्रोपेगैंडा वीडियो जारी किया था जिसमें एक चीनी महिला सिक्किम में सीमा विवाद पर भारत का मज़ाक उड़ाते हुए दिख़ रही है.

चीनी मीडिया ने गिनाए भारत के 'ये सात पाप'

इस वीडियो के भारतीय सोशल मीडिया पर पहुंचने के बाद लोगों के बीच हैरानी और ग़ुस्सा दोनों ही भावनाएं देखी गईं थी.

लेकिन अब इस नए वीडियो में चीनी मीडिया ने दोनों देशों के ऐतिहासिक संबंध और सांस्कृतिक संबंधों की बात करते हुए शांति की बात की है.

क्या कहता है नया चीनी वीडियो?

इस वीडियो में चीनी मीडिया बताता है, "बीते दो महीनों से भी ज़्यादा समय से डोंग लांग को लेकर भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ रहा है. 18 जून को भारतीय सेना दो बुलडोजर और हथियारों समेत सिक्किम सेक्टर को क्रॉस करके चीनी क्षेत्र में दाख़िल हो गई."

"इसके बाद चीन की रोड बनाने के काम को बाधित कर दिया. इससे दोनों देशों के बीच गतिरोध पैदा हुआ. ये मामला भारत की ओर से रणनीतिक विश्वास में कमी को दिखाता है. इससे भारत के ही हितों को नुकसान हो सकता है."

इमेज कॉपीरइट XINHUA

भारत-चीन संस्कृति इतिहास की बात

इस वीडियो में ये भी कहा गया है, "चीन और भारत दुनिया की दो सबसे पुरानी सभ्यताएं हैं. और, शानदार संस्कृतियां हैं. ये दोनों देश प्रतिद्वंदी बनने के लिए नहीं बने हैं. हमारा ऐतिहासिक संबंध रहा है."

"इसलिए भारत को तुरंत अपनी सेनाओं को चीनी सीमा से वापस बुला लेना चाहिए और भविष्य में होने वाले किसी गलत फैसले को लेकर सावधान रहना चाहिए. मिल-जुलकर रहने से दोनों देशों के 2.7 बिलियन लोगों को ही लाभ है. और, किसी भी तरह की शत्रुतापूर्ण प्रतिद्वंदिता ख़तरनाक हो सकती है."

"और, दोनों देशों को एक दूसरे के प्रति विश्वास पैदा करना होगा. आखिरकार, एशिया में चीनी ड्रेगन और भारतीय हाथी के साथ-साथ रहने के लिए जरूरत से ज़्यादा जगह है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे