फिएट को क्यों ख़रीदना चाहता है चीन का ग्रेट वॉल?

जीप मोटर कंपनी इमेज कॉपीरइट Getty Images

चीन की ग्रेट वॉल मोटर्स जीप बनाने वाली कंपनी फिएट क्राइसलर को ख़रीदना चाहती है.

ग्रेट वॉल के एक अधिकारी ने न्यूज एजेंसी रॉयटर्स को कहा कि कंपनी का इरादा अधिग्रहण का रहा है.

हालांकि इतालवी-अमरीकी कार कंपनी फिएट क्राइसलर का कहना है उसे इस मामले में किसी तरह का प्रस्ताव ग्रेट वॉल की तरफ से नहीं मिला.

ग्रेट वॉल मोटर्स चीन की एसयूवी कार बनाने वाली सबसे बड़ी कंपनी है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

पहले छप चुकी एक रिपोर्ट के मुताबिक इस चीनी कंपनी ने फिएट के जीप ब्रांड को खरीदने की इच्छा जताई थी. इसके लिए उसने फिएट के अधिकारियों को मिलने को भी कहा था.

जीप ब्रांड ने पिछले साल अपना 75वां साल पूरा किया है. इसे फिएट की सबसे बहुमूल्य संपत्ति माना जाता है.

इसकी प्रतिष्ठा द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान बढ़ी, जब अमरीकी सैनिक इसका इस्तेमाल करते थे.

इस ख़बर के बाद मिलान में फिएट के शेयर में 3.5 फ़ीसदी की बढ़त देखी गई.

दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बनने का इरादा

शंघाई स्थित ऑटोमोटिव फोरसाइट के प्रमुख येल झांग ने बताया, "ग्रेट वॉल दुनिया की सबसे बड़ी एसयूवी कार निर्माता कंपनी बनना चाहती है, ऐसे में जीप का अधिग्रहण एक तर्क संगत विकल्प है."

उन्होंने कहा, "जीप की लोकप्रियता पूरी दुनिया में है. मुझे लगता है कि ग्रेट वॉल की नज़र अमरीका में ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया में छाने की है."

तो क्या चीन की अर्थव्यवस्था डूबने के कगार पर है?

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption फिएट क्राइसलर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सर्जियो मार्कोनी

ग्रेट वॉल मोटर्स की स्थापना 1984 में हुई थी. यह चीन की सबसे बड़ी एसयूवी कार और पिकअप ट्रक निर्माता कंपनी है.

अमरीका में अपनी पैठ बनाने के लिए इस साल की शुरुआत में कंपनी ने प्रीमियम एसयूवी ब्रांड वेई लॉन्च किया था.

फिएट क्राइसलर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सर्जियो मार्कोनी को एक साझेदार या खरीदार की तलाश है ताकि बढ़ती लागत पर नियंत्रण पाया जा सके.

कंपनी उत्सर्जन नियमों और इलेक्ट्रिक और स्वचालित कारों की दिशा में आगे बढ़ना चाहती है.

डोकलाम विवाद पर चीनी मीडिया के नए वीडियो में क्या है?

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे