नवाज़ शरीफ़ की पत्नी कुलसुम नवाज़ को हुआ गले का कैंसर

कुलसूम नवाज़ इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption कुलसूम नवाज़

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ की पत्नी कुलसुम नवाज़ गले के कैंसर से जूझ रही हैं.

ख़बर तब सामने आई जब इलाज के लिए उन्हें लंदन ले जाया गया. पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज़ के पार्टी पदाधिकारियों के मुताबिक कुलसुम की बीमारी का इलाज संभव है.

कुलसुम नवाज़ अगले महीने अपने पति नवाज़ की सीट से संसदीय उपचुनाव में उतरने वाली हैं. पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट के द्वारा नवाज़ शरीफ़ को अयोग्य घोषित करने के बाद जुलाई में इस्तीफ़ा देने के लिए मज़बूर होना पड़ा.

नवाज़ के भाई क्यों नहीं बनेंगे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री?

सियासी मैदान में टिक पाएँगे नवाज़ शरीफ़?

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption मरियम शरीफ़

अपनी मां के इलाज के दौरान अब शरीफ़ की बेटी मरियम उनका चुनावी अभियान चलाएंगी.

पीएमएल-एन के वरिष्ठ सदस्य मुशाहिदुल्ला खान ने बीबीसी उर्दू को बताया, "उनके कैंसर का इलाज संभव है और हम आशा करते हैं कि वो जल्द ही ठीक हो जाएंगी, लेकिन यह संभव है कि वो अपने चुनावी अभियान के दौरान मौज़ूद नहीं रहेंगी."

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption नवाज़ शरीफ़

पनामा पेपर्स घोटाले में नवाज़ शरीफ़ को दोषी पाए जाने के बाद प्रधानमंत्री के पद से इस्तीफ़ा देना पड़ा था.

इन पेपर्स से यह खुलासा हुआ कि नवाज़ शरीफ़ की बेटी उस विदेशी कंपनी से जुड़ी थीं जिसके पास लंदन में संपत्ति थी.

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption अपने भाई शाहबाज़ शरीफ़ के साथ नवाज़ शरीफ़

कुलसुम नवाज़ के चुनाव लड़ने का फ़ैसला परिवार की बदली रणनीति के रूप में देखी जा रही है, जिसने पहले यह संकेत दिया था कि शरीफ़ के छोटे भाई शाहबाज़ इस सीट पर उतरेंगे और फिर प्रधानमंत्री पद के लिए भी वो ही उम्मीदवार होंगे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption शाहिद ख़कान अब्बासी

लेकिन सत्तारूढ़ पार्टी ने शरीफ़ के वफ़ादार शाहिद ख़कान अब्बासी को प्रधानमंत्री पद की ज़िम्मेदारी सौंप दी. समझा जा रहा है कि वो अगले साल चुनाव होने तक इस पद पर बने रहेंगे.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
पनामा पर फ़ैसला

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे