चीनी कंपनी ने ओबामा पर मुकदमा ठोका

 बुधवार, 3 अक्तूबर, 2012 को 10:40 IST तक के समाचार

कंपनी के मुताबिक रोक का आदेश सुनाते हुए ओबामा ने सुरक्षा को खतरे के कोई सबूत नहीं दिए

अमरीका में काम कर रही एक चीनी कंपनी ने अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा पर कानून तोड़ने और अपने अधिकार क्षेत्र से बाहर काम करने के आरोप में मुकदमा दायर किया है.

मंगलवार को सार्वजनिक हुए अदालत के दस्तावेज़ों के मुताबिक कंपनी ने अपनी शिकायत में लिखा है कि राष्ट्रपति ओबामा ने 'गैरकानूनी और अनाधिकृत तरीके से बर्ताव किया.'

राल्स कॉर्पोरेशन नाम की ये कंपनी, ओरेगॉन स्थित अमरीकी नौसोना के ठिकाने के पास बने चार पवन चक्की संयंत्र खरीदना चाहती थी.

राल्स का आरोप है कि अमरीकी प्रशासन ने राष्ट्रीय सुरक्षा को वजह बताते हुए कंपनी को रोका और ये उसके अधिकार क्षेत्र से बाहर था.

हालांकि इससे पहले ही शुक्रवार को राष्ट्रपति ओबामा ने एक आदेश जारी करते हुए कहा था कि राल्स कॉर्पोरेशन के खिलाफ इतने विश्वसनीय सबूत हैं जिन्हें राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा समझा जाए.

जीत सकेंगे मुकदमा?

नौसोना के इस ठिकाने का इस्तेमाल चालकरहित ड्रोन विमानों के परीक्षण के लिए होता है.

चीन की मशीन और पवन टरबाइन निर्माण कंपनी, राल्स कॉर्पोरेशन ने सितंबर में ये मुकदमा दायर किया था लेकिन तब राष्ट्रपति ओबामा को आरोपी नहीं बनाया गया था.

जानकारों का मानना है कि कंपनी के मुकदमा जीतने की बहुत कम संभावना है क्योंकि राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर राष्ट्रपति का अधिकार क्षेत्र बहुत व्यापक है.

गौरतलब है कि ओबामा पर ये ताज़ा आरोप उस समय सार्वजनिक हुए हैं जब अमरीका के राष्ट्रपति पद के चुनाव प्रचार का आखिरी दौर चल रहा है.

उनके प्रतिद्वंदी मिट रॉमनी ने ओबामा पर चीनी कंपनियों की निवेश प्रणालियों पर नकेल ना कसने का आरोप लगाया है.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.