गर्भपात कराने वाले जहाज को रोका गया

Image caption वूमन ऑन वेव्स इससे पहले यूरोपीय देशों में जा चुका है.

नीदरलैंड में महिलाओं के एक संगठन के उस जहाज को मोरक्को के स्मिर बंदरगाह पर रोक लिया गया है जो कि दूर-दराज के इलाकों मे ले जाकर महिलाओं का गर्भपात कराता है.

वूमन ऑन वेव्स नाम का ये संगठन नीदरलैंड के बाहर ऐसे देशों में गर्भपात की सेवा देता है और गर्भनिरोध के तरीके बताता है जहाँ गर्भपात की अनुमति नहीं है.

इस संगठन की प्रमुख रेबेगा गोम्पर्ट्स ने बीबीसी को बताया कि उन्हें इस कार्रवाई पर बेहद आश्चर्य हुआ है.

उनका कहना था कि पूरे बंदरगाह को बंद कर दिया गया था और किसी को भी वहां प्रवेश करने की इजाजत नहीं थी.

वुमेन ऑन वेव्स के मुताबिक उन्हें मोरक्को के एक युवा समूह ने आमंत्रित किया था जो कि व्यक्तिगत स्वतंत्रता का हिमायती है.

गर्भपात

दुनिया में कई ऐसे देश हैं जहाँ गर्भपात करवाना अवैध माना जाता है, लेकिन नीदरलैंड में महिलाओं का एक संगठन ऐसा भी है जिनके विशेष जहाज इन देशों में जाकर गर्भपात की सेवा मुहैया करवाते हैं.

मोरक्को में भी ऐसा ही एक जहाज़ आ रहा था और ये पहली बार था जब ये जहाज किसी मुस्लिम देश में गर्भपात की सेवाएं देने जा रहा था. मोरक्को में गर्भपात करवाना तब तक अवैध है जब तक कि माँ की जान को खतरा न हो.

पिछले 11 सालों में वूमन ऑन वेव्स के जहाज आयरलैंड, पोलैंड, पुर्तगाल, स्पेन जैसे कई देशों में गए हैं और उन्हें वहाँ कई लोगों का विरोध भी झेलना पड़ा है.

गर्भपात के असुरक्षित तरीके

जहाज के रवाना होने से पहले वुमेन ऑन वेव्स संगठन की संस्थापक रेबेका गॉम्पर्ट्स ने एएफपी को फोन पर बताया, “जहाज़ मोरक्को जा रहा है. हम इसके पहुँचने का समय और जगह नहीं बता सकते. हमें उम्मीद है कि ये जहाज़ वहाँ एक हफ्ते तक रहेगा.”

आमतौर पर कई देशों में अवैध गर्भपात घर में ही किया जाता है जो खतरनाक हो सकता है. संगठन ने बताया कि मोरक्को सरकार के आँकड़ों के मुताबिक वहाँ हर रोज़ 600 से 800 महिलाओं का गर्भपात होता है.

रेबेका गॉम्पर्ट्स का कहना है कि सिर्फ़ 200 गर्भपात ही सही तरीके से हो पाते हैं.

डच संगठन वूमन ऑन वेव्स (डब्ल्यूओओडब्ल्यूओ) के मुताबिक उसे मोरक्को की स्थानीय युवा संस्था ‘द ऑलटरनेटिव मूवमेंट फॉर इंडिविजुअल लिबर्टिस’ ने बुलाया था.

माली की एक वेबसाइट के मुताबिक अपने मोरक्को दौरे के दौरान डब्ल्यूओओडब्ल्यूओ संगठन कोई गर्भपात नहीं करेगा लेकिन वो गर्भपात के सुरक्षित तरीकों के बारे में बताएगा.

संबंधित समाचार