टीवी बहस में ओबामा रोमनी के बीच तीखी नोक-झोंक

मिट रोमनी और बराक ओबामा
Image caption अर्थव्यवस्था पर बहस के दौरान ओबामा ने कई बार कहा कि रोमनी सच नहीं बोल रहे हैं.

नवंबर में राष्ट्रपति चुनाव से पहले अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और उनके रिपब्लिकन प्रतिद्वंद्वी मिट रोमनी के बीच दूसरी टीवी डिबेट में, दोनों के बीच अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर तीख़ी नोक-झोंक हुई है.

वाहन उद्योग को दी गई अपनी सरकार की सहायता पर बात करते हुए ओबामा ने कहा कि मिट रोमनी तो इस व्यवसाय को दीवालिया बना देना चाहते थे.

लेकिन रोमनी ने इस आरोप से इंकार करते हुए कहा कि वो दरअसल एक करोड़ बीस लाख नई नौकरियों का निर्माण करना चाहते हैं.

ओबामा ने ये भी कहा कि रोमनी तो सिर्फ़ अमीर लोगों के लिए ही काम करने चाहते हैं.

पहली बहस में पिछड़ने के बाद ओबामा से उम्मीद थी कि वो इस बार बेहतर प्रदर्शन करेंगे. माना जाता है कि पहली बहस में मिट रोमनी बराक ओबामा पर भारी पड़े थे.

दूसरी डिबेट में ओबामा के लिए काफ़ी कुछ दांव पर लगा है. टीवी पर बहस शुरू होने से कुछ घंटे पर जारी एक सर्वेक्षण के अनुसार मिट रोमनी 50 प्रतिशत और ओबामा 46 प्रतिशत संभावित मतदाताओं की पसंद हैं.

दूसरी बहस की शुरूआत कॉलेज में पढ़ रहे एक लड़के के सवाल से हुई जिसने पूछा कि इस बात की क्या गारंटी है कि पढ़ाई पूरी करने के बाद उसे अच्छी नौकरी मिल पाएगी.

रोमनी ने तुरंत कहा कि आने वाले चार सालों में उन्हें कोई दिक्कत नहीं होगी.

अमरीकी अर्थव्यवस्था पर हुई बहस के दौरान राष्ट्रपति पद के दोनों उम्मीदवारों ने एक दूसरे को कई बार टोका. ओबामा ने कई बार कहा कि रोमनी सच नहीं बोल रहे हैं.

संबंधित समाचार