अमरीकी चुनाव: प्रमुख राज्यों के तूफ़ानी दौरे

 सोमवार, 5 नवंबर, 2012 को 16:16 IST तक के समाचार
ओबामा, रोमनी

ओबामा को कुछ बढ़त ज़रूर है लेकिन बहुत कांटे की टक्कर होने के आसार बताए जा रहे हैं

अमरीका में राष्ट्रपति चुनाव के लिए अब केवल दो दिन बाक़ी रह गए हैं और प्रचार ज़ोरों पर चल रहा है.

दोनों ही उम्मीदवार डेमोक्रेटिक पार्टी के बराक ओबामा और रिपब्लिकन पार्टी के मिट रोमनी प्रमुख राज्यों का तूफ़ानी दौरा कर रहे हैं.

हैम्मशायर में एक चुनावी रैली के दौरान बराक ओबामा ने कहा कि वे इतनी दूर आगे निकल चुके है कि अब वे वापस नही लौट सकते.

दूसरी तरफ़ मिट रोमनी ने ओहायो में चुनाव प्रचार के दौरान कहा, ''हम अमरीकी हैं और हम लोग कुछ भी कर सकते हैं.''

लेकिन दोनों के बीच कांटे की टक्कर है और नतीजों के बारे में कुछ भी अनुमान लगाना बहुत मुश्किल है.

एबीसी न्यूज़ और वाशिंगटन पोस्ट के ताज़ा सर्वेक्षण के अनुसार दोनों ही उम्मीदवारों को 48 फ़ीसदी मतदाताओं का समर्थन हासिल है.

रोमनी ओहायो के अलावा पेनसिलवेनिया और वर्जीनिया का दौरा कर रहें हैं जबकि ओबामा फ़लौरिडा, ओहायो और कोलोराडो के मतदाताओं का दिल जीतने की कोशिश कर रहें हैं.

दोनों ही उम्मीदवार प्रचार के अंतिम दिनों में उन मतदाताओं को लुभाने की कोशिश में लगें हैं जिन्होंने अभी तक अपना मन नहीं बनाया है.

ओबामा, रोमनी

दोनों उम्मीदवार अपना सबकुछ दाव पर लगा रहे हैं.

पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन शनिवार को ओबामा के समर्थन में वर्जीनिया में उनके साथ एक चुनावी रैली में शामिल हुए.

'बदला के लिए मतदान'

न्यू हैम्पशायर में प्रचार के दौरान ओबामा ने कहा कि वो अहम मुद्दों पर गतिरोध दूर करने के लिए सभी पार्टियों के साथ मिलकर काम करेंगें लेकिन हेल्थकेयर और कॉलेजों की आर्थिक मदद जैसे मुद्दों पर कोई समझौता नहीं करेंगे.

रोमनी ने ओबामा के उस बयान की जमकर आलोचना की जिसमें ओबामा ने कहा था कि ज़्यादा से ज़्यादा मतदान करना रिपब्लिकन पार्टी से सबसे बड़ा बदला होगा.

इसके जवाब में रोमनी ने कहा कि मतदान बदले के लिए नहीं अपने देश से प्यार के कारण किया जाना चाहिए.

"मैं ओबामा को वोट दूंगी. हो सकता है उन्होंने सबकुछ नहीं किया लेकिन फिर भी उन्होंने बहुत कुछ किया है."

ओहायो की एक महिला मतदाता

कोलोराडा में रोमनी का कहना था, ''मंगलवार का चुनाव भविष्य को देखने और पिछले चार सालों को अपने पीछे छोड़ने का एक मौक़ा होगा.''

रोमनी ने कहा कि अमरीकी जनता एक सुनहरे भविष्य के बहुत क़रीब है.

ओहायो में एक मतदाता ने बीबीसी संवाददाता से बातचीत के दौरान कहा, ''मैं रोमनी को वोट दूंगा. कम से कम उनके पास अर्थव्यवस्था को ठीक करने और नौकरियां पैदा करने की एक योजना तो है.''

जबकि एक सेवानिवृत्त शिक्षक अनिता हिलडेग्रेन का कहना था, ''मैं ओबामा को वोट दूंगी. हो सकता है उन्होंने सब कुछ नहीं किया लेकिन फिर भी उन्होंने बहुत कुछ किया है.''

गोरों, बुज़ुर्गों और धार्मिक लोगों के बीच मिट रोमनी ज़्यादा लोकप्रिय हैं जबकि ओबामा को महिलाओं, अश्वेतों और नौजवान मतदाताओं का ज़्यादा समर्थन हासिल है.

आशा की जा रही है कि नौ राज्य ही नतीजों का फ़ैसला करेंगे जहां के मतदाता अंतिम समय में अपना फ़ैसला करते हैं. ताज़ा सर्वेक्षण के अनुसार इन राज्यों में ओबामा को थोडी़ सी बढ़त हासिल है.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.