ओबामा ने रोमनी को लंच पर आने की दावत दी

ओबामा और रोमनी
Image caption चुनाव प्रचार के दौरान दोनों ने एक दूसरे पर गंभीर आरोप लगाए थे.

अमरीकी राष्ट्रपति कार्यालय के अधिकारियों ने कहा है कि राष्ट्रपति बराक ओबामा ने चुनाव में अपने प्रतिद्वंद्वी रहे मिट रोमनी को व्हाइट हाउस में गुरुवार दोपहर के भोजन पर आने की दावत दी है.

छह नवंबर को हुए राष्ट्रपति चुनाव के बाद ये पहला मौक़ा है जब ओबामा और रोमनी एक दूसरे से सीधे बातचीत करेंगे.

उस चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के बराक ओबामा ने रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार मिट रोमनी को भारी अंतर से पराजित किया था.

चुनाव नतीजे आने के बाद ओबामा ने कहा था कि वो जल्द ही मिट रोमनी से मुलाक़ात करेंगे और देश को आगे ले जाने के लिए उनसे विचार विमर्श करेंगे.

चुनाव प्रचार के दौरान दोनों ने एक दूसरे पर काफ़ी गंभीर हमले किए थे और कहा जाता है कि दोनों के आपसी रिश्ते भी कुछ ख़ास अच्छे नहीं हैं.

चुनाव प्रचार के दौरान दोनों के बीच टेलीविज़न पर हुई बहस में भी दोनों ने बीच में ही कई बार टोका-टाकी की थी और नीतियों और सिद्धांतों को लेकर एक दूसरे पर कड़े हमले किए थे.

लेकिन चुनाव की गहमागहमी ख़त्म होने के बाद अब दोनों व्हाइट हाउस के निजी भोजन कक्ष में एक दूसरे से मिलेंगे.

अर्थव्यवस्था पर बातचीत

व्हाइट हाउस के अधिकारियों ने स्पष्ट कर दिया है कि मीडिया को अंदर आने की इजाज़त नहीं दी जाएगी.

व्हाइट हाउस के प्रवक्ता जे कार्नी ने बुधवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा, ''भोजन कक्ष में केवल दो लोग होंगे और मुझे पूरा यक़ीन है कि दोनों के बीच बहुत लाभदायक बातें होंगी.''

ओबामा और रोमनी की मुलाक़ात ऐसे समय में हो रही है जब कर बढ़ाने और ख़र्च में कटौती के मुद्दे पर ओबामा को संसद में रिपब्लिकन पार्टी के सहयोग की ज़रूरत है.

अमरीका के बजटीय घाटा को कम करने के लिए 2011 में दोनों के बीच समझौता हो गया था. चुनाव प्रचार के दौरान मिट रोमनी ने बजटीय घाटे को कम करने के लिए ख़र्च और कर में भारी कटौती करने की वकालत की थी.

लेकिन ओबामा का मानना है कि अमीरों को ज़्यादा कर देना चाहिए.

चुनाव समाप्त होने के बाद मिट रोमनी सार्वजनिक तौर पर बहुत कम देखे गए हैं और राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि रिपब्लिकन सासंदों पर मिट रोमनी का कोई ख़ास प्रभाव नहीं है.

संबंधित समाचार